निर्भया गैंगरेप के दोषी तिहाड़ में आत्‍महत्‍या की कोशिश, हालत नाजुक

Aug 25, 2016
निर्भया गैंगरेप के दोषी तिहाड़ में आत्‍महत्‍या की कोशिश, हालत नाजुक

दिल्‍ली के कुख्‍यात 2012 निर्भया गैंगरेप केस में मौत की सजा काट रहे दोषी विनय शर्मा ने आत्‍महत्‍या की कोशिश की है। दिसंबर 2012 में 23 वर्षीय फिजियोथेरेपी स्‍टूडेंट के बलात्‍कार और हत्‍या के मामले में विनय को दोषी करार दिया गया था। वह तिहाड़ जेल में मौत की सजा काट रहा है। शर्मा को आत्‍महत्‍या के प्रयास के बाद दीनदयाल अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। नवभारत टाइम्‍स ने जेल सूत्रों के हवाले से लिखा है कि बुधवार देर रात विनय ने कुछ दवाइयां निगल लीं। इसके बाद उसने गमछे का फंदा बनाकर खुदकुशी की कोशिश की। इस दौरान जेलकर्मियों ने उसे देख लिया। उसे तुरंत दिल्ली के दीनदयाल हॉस्पिटल ले जाया गया। उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। निर्भया गैंगरेप का मुख्य आरोपी राम सिंह 2013 में तिहाड़ जेल में खुदकुशी कर चुका है। विनय शर्मा को तिहाड़ जेल के जेल नंबर आठ में रखा गया है। पिछले साल ही शर्मा ने यह कहते हुए तिहाड़ जेल में एक्‍स्‍ट्रा सिक्‍योरिटी की मांग की थी कि दूसरे कैदी और पुलिस अधिकारी उसे मारते-पीटते हैं। विनय पर पिछले साल अगस्त में जेल के भीतर हमला हुआ था और उसके हाथ में फ्रैक्चर हो गया था।

23 वर्षीय पैरामेडिकल छात्रा से दक्षिण दिल्ली में 16 दिसंबर, 2012 की रात को चलती बस में छह लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया था और उस पर बर्बर हमला किया था। पीड़िता की 29 दिसंबर को सिंगापुर के अस्पताल में मृत्यु हो गई थी। निर्भया केस का मुख्य आरोपी राम सिंह तिहाड़ में ही फांसी लगा चुका है। राम सिंह तिहाड़ जेल के सेल में मार्च 2013 में मृत मिला था। मामले के किशोर आरोपी को 31 अगस्त 2013 को सुधार गृह में तीन साल रखने की सजा सुनाई गई थी। पिछले साल दिसंबर में वह रिहा हो गया। निर्भया केस के पांच दोषियों में से एक जिम ट्रेनर रहे विनय शर्मा को निर्भया केस में अपहरण, बलात्कार और हत्या का दोषी करार देते हुए कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई थी, जिसके बाद से वह तिहाड़ जेल में बंद है।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>