Nice attack: नीस हमले में किसी भी भारतीय के प्रभावित होने की खबर नहीं : विदेश मंत्रालय

Jul 15, 2016

फ्रांस के नीस रिजॉर्ट में हुए आतंकी ‘हमले’ में किसी भी भारतीय के प्रभावित होने की खबर नहीं है.

नीस में बासटील दिवस के आयोजनों के दौरान भीड़ में एक विशाल ट्रक के घुसने से कम से कम 80 लोगों की जान चली गई.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने शुक्रवार को ट्वीट किया ‘पेरिस में हमारे राजदूत नीस में भारतीय समुदाय से संपर्क बनाए हुए हैं. अब तक किसी भी भारतीय के प्रभावित होने की खबर नहीं है.’

Our Ambassador in Paris is in touch with the Indian community in Nice. So far no report of any Indians affected

— Vikas Swarup (@MEAIndia)
उन्होंने यह भी कहा कि पेरिस में भारतीय दूतावास ने हेल्पलाइन नंबर शुरू किया है जो 33-1-40507070 है.

ये भी पढ़ें :-  सीरिया : बम विस्फोट में 7 नागरिकों की मौत

 

Our Embassy in Paris has opened helpline +33-1-40507070.

— Vikas Swarup (@MEAIndia)

ओबामा ने फ्रांस हमले की निंदा की : अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने फ्रांस के नाइस शहर में हुए ट्रक हमले की कड़े शब्दों में निंदा की है. उन्होंने एक बयान जारी कर कहा कि अमेरिकी लोगों की ओर से, मैं नाइस में हुए घातक हमले की कड़े शब्दों में निंदा करता हूं जो आतंकवादी हमले की तरह प्रतीत होता है. उन्होंने हमले में मारे गए निर्दोष लोगों के प्रति शोक व्यक्त किया तथा हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने का भी आश्वासन दिया.
फ्रांस के साथ खड़ा है यूरोपीय संघ : फ्रांस के नीस शहर में हुए ट्रक हमले के बाद यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष डोनाल्ड टस्क ने कहा कि यूरोप फ्रांस के लोगों के साथ हिंसा और घृणा के खिलाफ लड़ाई में एकजुट होकर खड़ा है. फ्रांस के नीस शहर में हुए इस ट्रक हमले में कम से कम 80 लोग मारे गए. टस्क ने कहा कि फ्रांसीसी सरकार के साथ यूरोप हमेशा खड़ा है.

ये भी पढ़ें :-  अफगानिस्तान में हो रहे खूनखराबे के लिए सिर्फ अमेरिका जिम्मेदार: पूर्व राष्ट्रपति हामिद करज़ई

नीस में गुरूवार रात बासटील दिवस के आयोजन के लिए बड़ी संख्या में लोग एकत्र हुए थे. देर रात को एक विशाल ट्रक भीड़ में घुस गया जिससे कम से कम 80 लोग मारे गए और दर्जनों अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए.

भीड़ को कुचलते हुए करीब दो किमी आगे जा चुके ट्रक चालक को गोली मार दी गई. घटना स्थल पर शवों का ढेर लगा था और घबराहट में सैकड़ों लोग बदहवास हो कर भागने लगे.

आठ माह पहले ही इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने पेरिस में नाइटक्लब में हमला कर 130 लोगों को मार डाला था. इस हमले के बाद दुनिया के शीर्ष पर्यटन गंतव्यों में से एक पेरिस में पर्यटन को गहरा झटका लगा था.

ये भी पढ़ें :-  सऊदी अरब में हफ्तों से पड़े है 2 भारतीय मजदूरों के शव, नहीं ले रहा कोई सुध

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>