संप्रदाय के हितों से ऊपर उठने की जरूरत : राजनाथ

Apr 09, 2017
संप्रदाय के हितों से ऊपर उठने की जरूरत : राजनाथ

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को कहा कि राष्ट्र विकास के वृहद परिदृश्य पर ध्यान केंद्रित करने के लिए सभी साझेदारों को संप्रदाय विशेष के हितों से ऊपर उठकर सोचना होगा। राजनाथ सिंह ने अंतर्राज्यीय परिषद की स्थायी समिति की 11वीं बैठक की अध्यक्षता करते हुए ये बातें कहीं।

बैठक में केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह, त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक सरकार, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उपस्थित थे।

इनके अलावा आंध्र प्रदेश, पंजाब और राजस्थान के मंत्रियों ने इस बैठक में हिस्सा लिया।

गृह मंत्री ने कहा कि देश को विकास के पथ पर बढ़ाने के लिए सभी साझेदारों को आम इच्छा बनानी होगी और समृद्धि तभी आ सकती है जब शांति एवं स्थिरता हो।

उन्होंने कहा कि भारत विविधता में एकता वाला देश है और इसलिए जरूरी है कि विश्वास और मित्रता को केंद्र-राज्य के बीच समन्वय का आधार बनाया जाए।

वक्तव्य में कहा गया है कि स्थायी समिति ने पुंछी आयोग के दूसरे और तीसरे खंड में की गई विभिन्न सिफारिशों पर चर्चा की।

पुंछी आयोग का गठन 2005 में किया गया था और आयोग ने 2010 में अपनी रिपोर्ट सौंपी थी। आयोग ने कुल सात खंडों में अपनी सिफारिशें सौंपी हैं।

आयोग की रिपोर्ट के दूसरे खंड में संविधान के उन प्रावधानों पर बात की गई है, जिसमें राज्यपाल की भूमिका, केंद्रीय सुरक्षा बलों की तैनाती, शक्ति का संघीय संतुलन, राज्य एवं केंद्र सरकारों के बीच बेहतर समन्वय जैसे सांविधानिक प्रशासन के मुद्दे शामिल हैं।

वहीं आयोग की रिपोर्ट के तीसरे खंड में केंद्र और राज्य के वित्तीय संबंधों तथा राज्यों को मिलने वाली आर्थिक मदद एवं वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) से संबंधित विषय हैं।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>