झारखंड: एंबुलेंस नहीं मिली तो गर्भवती महिला ने सड़क पर ही जना बच्चा

Sep 10, 2016
झारखंड: एंबुलेंस नहीं मिली तो गर्भवती महिला ने सड़क पर ही जना बच्चा
झारखंड में हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। एंबुलेंस ना मिलने पर एक महिला ने बच्चे को सड़क पर जन्म दिया।

लातेहार, (उत्कर्ष पांडेय)। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लातेहार (झारखंड) के समीप बने रैन बसेरा के बाहर एनएच-75 के किनारे एक महिला ने बच्चे को गुरुवार की रात जन्म दिया। महिला को न तो सरकारी मदद मिली न ही कोई अस्पताल तक पहुंचाने वाला। बिना किसी मदद के सुरक्षित प्रसव हुआ। सुबह एनएच- 75 के किनारे बेसुध अवस्था में महिला और उसके नवजात को देखने के बावजूद लोग तमाशबीन बने रहे। हैरत की बात तो यह है कि रैन बसेरा से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) की दूरी महज चंद कदमों की है।

बेहतर स्वास्थ्य सेवा का दंभ भरने वाली व्यवस्था ने महिला की सुध तक नहीं ली। लातेहार जिले के हेसला गांव निवासी नंदकिशोर अगेरिया की पत्नी सोनामनी देवी ने शुक्रवार को बताया कि वह अपने घर हेसला गांव से गुरुवार दोपहर दो बजे अपने एक बच्चे को पीठ में बांधकर व दो बच्चों का हाथ पकड़कर पैदल लातेहार में आधार कार्ड बनवाने के लिए निकली। वह गर्भवती होने के बावजूद गांव से पैदल 18 किलोमीटर चलकर लातेहार पहुंची।

लातेहार पहुंचते ही शाम ढल गई तो उसने सोचा कि लातेहार प्रखंड कार्यालय के समीप रैन बसेरा में रुक जाए। सुबह होते ही बच्चों का आधार कार्ड बनवा लेगी। शाम ढलने के बाद बच्चे भूख से रोने लगे, लेकिन उसके पास पैसे नहीं थे। बच्चों की भूख का हवाला देकर उसने पास के एक होटल से खाना मांगा और बच्चों को खिलाकर उन्हें सुला दिया। खुद पानी पीकर भूखी ही सो गई। रैन बसेरा में महिला को रात 12 बजे प्रसव पीड़ा शुरू हुई। प्रसव पीड़ा से कराहते हुए वह तड़पने लगी। मां को तड़पता देख पास में सोए बच्चे जाग गए। अंतत: महिला ने रात दो बजे के करीब एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया।

जानकारी मिलने के बाद भी नहीं लिया संज्ञान

प्रखंड सह अंचल कार्यालय परिसर के समीप बने रैन बसेरा के समीप सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र है। पास में ही कई सरकारी पदाधिकारी और कर्मचारियों का आवास है। सुबह सभी मार्निंग वॉक पर निकलते हैं, शुक्रवार को भी निकले थे। मामले की जानकारी मिली तो कुछ मौके पर पहुंचे और हालात को देखने के बावजूद बिना अपना फर्ज निभाए मुंह मोड़कर चलते बने।

लातेहार के कुछ लोगों ने मामले की सूचना सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ. सुरेंद्र प्रसाद सिंह को भी दी, लेकिन उनकी ओर से कोई पहल नहीं हुई। इसी बीच कुछ लोगों ने मामले की जानकारी एसपी अनूप बिरथरे को दी। इसके बाद एसपी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए लातेहार थाना प्रभारी को तत्काल एंबुलेंस ले जाकर महिला को सदर अस्पताल पहुंचाने का निर्देश दिया। सदर अस्पताल में जच्चा और बच्चा की स्थिति सामान्य बताई गई।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>