जानिए, अानंदीबेन पटेल के बाद कौन होगा गुजरात का सीएम

Aug 02, 2016
गुजरात के अगले मुख्यमंत्री पद पर कौन काबिज होगा यह अहम सवाल है। आइए आपको बताते हैं गुजरात के नए सीएम के लिए किस-किस का नाम चल रहा है और क्यों

नई दिल्ली। गुजरात की मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल के मुख्यमंत्री पद छोड़ने के बाद राज्य के नए सीएम को लेकर चर्चा शुरू हो गई है। अगले साल यानी 2017 में गुजरात में विधानसभा चुनाव भी होने हैं। ऐसे में गुजरात के अगले मुख्यमंत्री पद पर कौन काबिज होगा यह अहम सवाल है। आइए आपको बताते हैं गुजरात के नए सीएम के लिए किस-किस का नाम चल रहा है और क्यों

विजय रुपानी

60 वर्षीय विजय रुपानी भाजपा गुजरात इकाई के प्रदेश अध्यक्ष के साथ ही गुजरात सरकार में ट्रांसपोर्ट मंत्री भी हैं। ​आनंदीबेन के उत्तराधिकारी के लिए इनके नाम पर विवाद की सबसे कम आशंकाएं हैं। विजय पीएम मोदी अौर अमित शाह के सबसे विश्वासपात्र माने जाते हैं। विजय रुपानी एक साफ सुथरी छवि के नेता हैं। सौराष्ट में इनकी अच्छी पकड़ है। वह जैन समुदाय से आते हैं इसलिए उन पर पटेल, दलित विवाद का दबाव कम होगा। जातीय समीकरण के मद्देनजर उपयुक्त नहीं।

नितिन पटेल

60 वर्षीय नितिन पटेल गुजरात कैबिनेट के सबसे वरिष्ठ सदस्य हैं। वे इस समय गुजरात के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री हैं। अधिकारिक तौर पर कैबिनेट में नंबर 2 की हैसियत रखते हैं। नरेंद्र मोदी और अमित शाह की नजरों में भी ये सबसे काबिल हैं। पटेल के पास नेतृत्व क्षमता की कमी है।

अमित शाह

52 वर्षीय अमित शाह पर पार्टी और आलाकमान में यह भरोसा है कि पीएम मोदी के गृहराज्य में भाजपा को वापस ट्रैक पर ला सकते हैं। वे वर्तमान के पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। लेकिन यूपी चुनाव भी करीब हैं। ऐसे में अगर अमित शाह गुजरात का सीएम बनने के इच्छुक भी होंगे तब भी इसकी संभावनाएं कम हैं। क्योंकि यूपी में मोर्चा उन्हें ही संभालना है।

पढ़ेंः

पुरुषोत्तम रुपाला

62 वर्षीय पुरुषोत्तम रुपाला पटेल नेता हैं। जनता को लुभाने में माहिर। कार्यकर्ताअों के बीच काफी लोकप्रिय भी हैं। हालांकि हाल ही में उन्हें केंद्रीय मंत्री बनाया गया है लेकिन वह पीएम मोदी और अमित शाह के विश्वासपात्रों में नहीं गिने जाते हैं।

भीखूभाई दलसानिया

52 वर्षीय भीखूभाई दलसानिया गुजरात में भाजपा के महासचिव हैं। मोदी के समय से ही पार्टी के सबसे ताकतवर नेताओं में से एक माने जाते हैं। ये संघ और बाजपा के बीच पुल का काम करते हैं। वे अभी भी संघ के लिए काम करते हैं। इससे सीएम बनने के चांसेज में कुछ कमी आ सकती है।

शंकर चौधरी

46 वर्षीय शंकर चौधरी उत्तर गुजरात से ओबीसी नेता हैं। अगर भाजपा ओबीसी चेहरा को मुख्यमंत्री बनाना चाहे तो उनका नाम सबसे उपर हो सकता है।

पढ़ेंः

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>