नर्सिग छात्रा से दुष्कर्म मामले में विवि का संस्थापक गिरफ्तार

Jun 22, 2016
अहमदाबाद में कभी सौ रुपये में गर्भपात कराने वाला जयेश पटेल लंबे समय से अपने पारुल विश्वविद्यालय में अवांछित गतिविधियां चला रहा था।

जागरण संवाददाता, अहमदाबाद। नर्सिग छात्रा से दुष्कर्म के मामले में वडोदरा स्थित पारुल विश्वविद्यालय के संस्थापक डॉ. जयेश पटेल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मंगलवार देर रात आणंद से वाघोडिया आते समय पुलिस ने उसे धर दबोचा। इस घटना के बाद से जयेश को चेयरमैन पद से हटा दिया गया है और विवि के प्रशासकीय पदों पर दो महिलाओं को नियुक्त कर दिया गया है।

अहमदाबाद में कभी सौ रुपये में गर्भपात कराने वाला जयेश पटेल लंबे समय से अपने पारुल विश्वविद्यालय में अवांछित गतिविधियां चला रहा था। उसने छात्राओं के हॉस्टल में अपना आराम कक्ष बना रखा था। वार्डन भावना पटेल बताती हैं कि जयेश उन्हें हॉस्टल की लड़कियां लाने को मजबूर करता था।

ये भी पढ़ें :-  बिना इजाजत खादी कैलेंडर पर लगाई तस्वीर, नाराज हैं पीएम मोदी

पुलिस से पूछताछ में पता चला है कि वह नर्सिग कॉलेज में पढ़ने वाली गरीब छात्राओं को अपना शिकार बनाता था। उन्हें फीस माफी का लालच देकर तथा परीक्षा में फेल करने का भय दिखाकर यौन शोषण करता था। पिछले 16 जून को 21 वर्षीय नर्सिग छात्रा के साथ उसने डरा-धमकाकर दुष्कर्म किया था। घटना के प्रकाश में आने के बाद वह राजस्थान में श्रीनाथजी मंदिर चला गया था। वाघोडिया पुलिस उपाधीक्षक एसएल भट्ट ने बताया कि जयेश के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

इस मामले में बुधवार को जयेश को मेडिकल जांच के लिए सरकारी अस्पताल ले जाया गया, जहां गुस्साएं लोगों की भीड़ ने अस्पताल को घेर लिया। बाद में पुलिस उसे लोगों से बचाकर डभोई पुलिस थाने ले गई।

ये भी पढ़ें :-  भारत में हर साल वायु प्रदूषण के कारण होती हैं 12 लाख लोगों की मौत- जानिए और बड़ी बातें

जयेश ने पिछला विधानसभा चुनाव भाजपा से लड़ा था। इससे पहले कांग्रेस के टिकट पर मैदान में उतरा था। दोनों बार वह चुनाव हार गया था।

पढ़ें-

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected