लोकसभा में बुधवार को किन्नर सशक्तिकरण समेत पेश होंगे दो बिल

Aug 02, 2016
बुधवार को लोकसभा में कर्मचारी मुआवजा बिल, 2016 और किन्नरों के सशक्तिकरण के लिए एक अन्य बिल पेश किया जाएगा।

नई दिल्ली, प्रेट्र : लोकसभा में बुधवार को दो विधेयक पेश होंगे। पहला कर्मचारी मुआवजा बिल, 2016 है। इसमें हाईकोर्ट में अपील के लिए मुआवजे की विवादित राशि को बढ़ाया जाएगा। इसके अलावा, एक विधेयक किन्नरों के सशक्तिकरण के लिए भी पेश किया जाएगा। यह नया विधेयक उनको एक अलग पहचान देगा और ऐसी व्यवस्था देगा कि उनका शोषण न हो।

कर्मचारी मुआवजा अधिनियम, 1923 की धारा 30 के तहत हाईकोर्ट में मुआवजा राशि को लेकर विवाद होने पर अपील की जा सकेगी। मुआवजा राशि भी अब 300 रुपये से अधिक होगी। विधेयक में इस राशि को बढ़ाकर 10 हजार रुपये करने का प्रस्ताव है। इस विधेयक का मुख्य मकसद मुकदमेबाजी कम करना है।

एक सदी पुराने इस विधेयक के चलते घायल या बीमार कर्मचारी को 300 रुपये से कम का मुआवजा मिलता था। अगर कर्मचारी को मुआवजा नहीं दिया जाता तो इस विधेयक में कंपनी या फैक्ट्री मालिक पर इस अधिनियम के तहत मौजूदा 5000 रुपये के बजाय अब 50,000 रुपये का जुर्माना लगाया जा सकेगा। इसी तरह, किन्नरों के अधिकारों की रक्षा का बिल, 2016 उनकी प्रकृति को बेहतर तरीके से परिभाषित करेगा। साथ ही उन्हें यह अधिकार भी देगा कि वह खुद को जिस भी रूप में स्थापित करना चाहें कर पाएं।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>