निजी अस्पतालों के लिए दिशानिर्देश पर केंद्र और MCI को नोटिस

Aug 18, 2016
लापरवाही के चलते होने वाली मौत को लेकर केंद्र सरकार और भारतीय चिकित्सा परिषद (एमसीआइ) को नोटिस जारी किया है।

नई दिल्ली, प्रेट्र। सुप्रीम कोर्ट ने निजी अस्पतालों में लापरवाही के चलते होने वाली मौत को लेकर केंद्र सरकार और भारतीय चिकित्सा परिषद (एमसीआइ) को नोटिस जारी किया है।

कोर्ट ने पूछा है, क्या आइसीयू या सीसीयू में भर्ती मरीज के परिजनों को इलाज की जानकारी देने के संबंध में निजी अस्पतालों के लिए कोई दिशानिर्देश है? कोर्ट ने इस बारे में केंद्र सरकार और एमसीआइ से छह हफ्ते में जवाब देने को कहा है। न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा और यूयू ललित की पीठ ने पश्चिम बंगाल के एक व्यक्ति की याचिका पर यह नोटिस जारी किया।

पढ़ेंः

असित बरान मंडल ने याचिका में आरोप लगाया है कि निजी अस्पताल में इलाज के दौरान लापरवाही के चलते उनकी बहू की मौत हो गई। अस्पताल के सीसीयू के बाहर परिजन घंटों खड़े रहे लेकिन उन्हें इलाज के बारे नहीं बताया गया। कोर्ट ने इस पर संज्ञान लिया कि निजी अस्पतालों में गंभीर रूप से बीमार लोगों के परिजनों को इलाज के बारे में अंधेरे में रखा जाता है। कोर्ट ने कहा कि डॉक्टर या अस्पतालों की लापरवाही से प्रभावित लोग इलाज के बारे में जानकारी होने पर उपभोक्ता फोरम में जा सकते हैं।

पढ़ेंः

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>