कुपवाड़ा में सेना ने चलाए दो ऑपरेशन, 6 पाकिस्तानी आतंकी मारे

Jun 24, 2016
कश्मीर के कुपवाड़ा में सेना ने दो अलग-अलग ऑपरेशन में 6 आतंकियों को मार गिराया है।

श्रीनगर, (राज्य ब्यूरो)। सुरक्षाबलों ने गुरुवार को उत्तरी कश्मीर में एलओसी के साथ सटे कुपवाड़ा जिले के लोलाब व वतरखानी में हुई दो मुठभेड़ों में छह पाकिस्तानी आतंकियों को मार गिराया, जबकि वुडरवाला इलाके में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को घेर लिया है।

इस बीच, आतंकियों ने सोपोर के अमरगढ़ और मॉडल टाउन में दो ग्रेनेड हमले किए। इसमें दो वरिष्ठ पुलिस अधिकारी बाल-बाल बच गए। इन हमलों की जिम्मेदारी आतंकी संगठन हरकत-उल-मुजाहिद्दीनने ली है। लोलाब के दोवन-वरनौव में मारे गए तीनों आतंकियों के बारे में कहा जाता है कि ये 14 जून को सरहद पार से जेट गली इलाके से घुसपैठ कर आए सात आतंकियों के दल में शामिल थे। इनका एक साथी 15 जून को मुठभेड़ में मारा गया था और इस दौरान सेना का सिगनलमैन अशोक सिंह चौधरी शहीद व पांच अन्य सैन्यकर्मी घायल भी हो गए थे।

सुबह सेना को सूचना मिली कि आतंकियों का एक दल लोलाब के दोवन में देखा गया है। उसी समय 18 आरआर के जवानों ने अपने खोजी कुत्तों की मदद से जंगल में तलाशी ली और दोपहर करीब 11.30 बजे आतंकियों को घेर लिया। जवानों को अपनी तरफ आते देख आतंकियों ने फायरिंग करते हुए भागने का प्रयास किया, लेकिन जवानों ने उन्हें मुठभेड़ में उलझा लिया। करीब तीन घंटे दोनों तरफ से हुई गोलीबारी में तीन आतंकी मारे गए। उनके पास से भारी मात्रा में हथियार भी मिले हैं।

संबंधित अधिकारियों ने बताया कि मारे गए आतंकियों की तत्काल पहचान नहीं हो पाई है, लेकिन ये लश्कर के हो सकते हैं। उन्होंने बताया कि मारे गए आतंकियों के दो से तीन साथी और हो सकते हैं। उन्हें जिंदा अथवा मुर्दा पकड़ने के लिए पूरे इलाके में जवानों ने तलाशी अभियान जारी रखा हुआ है। लोलाब मुठभेड़ के कुछ ही देर बाद 47 आरआर व राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल एसओजी के जवानों ने द्रगमुला के साथ सटे वतरखानी में आतंकियों का ठिकाना पता चलते ही वहां घेराबंदी कर ली। जवानों को देख आतंकियों ने भागने का प्रयास किया, लेकिन नाकाम रहे। इसके बाद वहां हुई मुठभेड़ में तीन आतंकी मारे गए।

फिलहाल, वातरखानी में तलाशी अभियान जारी है। वतरखानी-द्रगुमला में मारे गए आतंकियों के शवों की मांग को लेकर हिंसक हुई भीड़ पर काबू पाने के लिए पुलिस को लाठियां व आंसूगैस भी इस्तेमाल करनी पड़ी है। इस बीच, बीती रात हंदवाड़ा में वुडरवाला इलाके में बेग व मुकादम मुहल्ले में जहां सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ के बाद आतंकी घेराबंदी तोड़ भाग निकले थे, वहां से करीब पांच किलोमीटर दूर जंगल में सुरक्षाबलों ने लश्कर के दो आतंकियों को घेर लिया है, वहां मुठभेड़ जारी है।

पढ़ेंः

आतंकी हमले में दो अधिकारी बाल बाल बचे

उत्तरी कश्मीर के सोपोर में आतंकियों ने लगभग एक घंटे के अंतराल पर दो जगहों पर ग्रेनेड हमले किए। पहला हमला पौने पांच बजे अमरगढ़ इलाके में हुआ। आतंकियों ने एसडीपीओ आशीष कुमार के वाहन को निशाना बनाते हुए ग्रेनेड फेंका, लेकिन ग्रेनेड उनके वाहन से कुछ दूरी पर गिरकर फटा। इसमें किसी प्रकार का नुकसान नहीं हुआ। इस हमले के लगभग एक घंटे बाद आतंकियों ने सोपोर माडल टाउन में डीएसपी आपरेशन को निशाना बनाते हुए उनके वाहन पर ग्रेनेड फेंका, लेकिन डीएसपी भी बाल-बाल बच गए।

इन दोनों हमलों में शामिल आतंकियों को पकड़ने के लिए पुलिस ने सोपोर के विभिन्न हिस्सों में तलाशी अभियान चला रखा है। इस बीच, हरकत-उल-मुजाहिदीन ने इन दोनों हमलों की जिम्मेदारी लेते हुए आने वाले दिनों में सुरक्षाबलों के खिलाफ अपनी कार्रवाई में तेजी लाने की धमकी दी है।

पढ़ेंः

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>