कश्मीरः अलगाववादी नेताअों ने प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों से मिलने से किया इनकार

Sep 04, 2016
कश्मीरः अलगाववादी नेताअों ने प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों से मिलने से किया इनकार
नजरबंद अलगाववादी नेता मीरवाइज ने कश्मीर मुद्दे पर प्रतिनिधि मंडल की तरफ से बात करने पहुंचे असदुद्दीन ओवैसी को यह कहकर वापस भेजा कि अभी कोई बात नहीं होगी।

श्रीनगर(एएनअाई)। जम्मू-कश्मीर में शांति बहाली के लिए सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के नेतृत्व में श्रीनगर पहुंच गया है। इससे पहले जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ़्ती ने हुर्रियत कॉन्फ्रेस समेत सभी पक्षों को बातचीत का न्योता भेजा था। महबूबा ने पीडीपी अध्यक्ष के तौर पर पत्र लिखा है। इस बीच राजनाथ सिंह ने कहा है कि टीम उन लोगों और संगठनों से बात करने की इच्छुक है जो शांति और बहाली चाहते हैं।

ये भी पढ़ें :-  भाजपा में आईएसआई की घुसपैठ संघ के लिए खतरे की घंटी : अवशेषानंद

कश्मीर में अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारुख, गनी भट्ट और यासिन मलिक से मुलाकात करने के लिए सर्वदलीय प्रतिनिधि मंडल के 6 सांसदों को 2-2 के 3 समूहों में बांटा गया। नजरबंद अलगाववादी नेता मीरवाइज ने कश्मीर मुद्दे पर प्रतिनिधि मंडल की तरफ से बात करने पहुंचे असदुद्दीन ओवैसी को यह कहकर वापस भेजा कि अभी कोई बात नहीं होगी। सैयद अली शाह गिलानी ने भी प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों से मिलने से इनकार किया।

अलगाववादी नेता यासिन मलिक ने भी सीताराम येचुरी और शरद यादव से बात करने से इनकार किया। इसके बाद जदयू नेता शरद यादव ने कहा कि हम यह मानते हैं कि उन्होंने बात को आगे बढ़ा दिया है। मुलाकात ठीक रही, मलिक का कहना है कि आपसे दिल्ली आकर बात करेंगे।

ये भी पढ़ें :-  उप्र चुनाव : चौथे चरण का प्रचार थमा, मतदान 23 फरवरी को

इससे पहले जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने सर्वदलीय प्रतिनिधि मंडल से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि प्रतिनिधि मंडल के सदस्यों के प्रयास और हुर्रियत के नेताओं के उनसे मिलने की दृष्टि से यह बैठक एक अच्छा कदम है।

पढ़ेंः

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected