LIVE: GST बिल पर लोकसभा में बोले पीएम मोदी- ‘एक देश, एक मंच, एक कर’

Aug 08, 2016
लोकसभा में पीएम मोदी ने कहा कि पांच बातें, मैन, मशीन, मटेरियल, मनी और मिनट का सदुपयोग करने पर अर्थव्यवस्था को बढ़ने के लिए अवसर नहीं तलाशने पड़ते हैं।

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी लोकसभा में जीएसटी बिल पर कहा कि आज आठ अगस्त है और आज ही के दिन आजादी का बिगुल फूंका गया था। आज आठ अगस्त को टैक्स टेररिज्म से मुक्ति पाने की शुरुआत हो रही है। सभी राजनीतिक दलों ने व्यापक मंथन कर जीएसटी पास कराने में हमारा साथ दिया।

जीएसटी पास होना किसी दल या सरकार की जीत नहीं बल्कि भारतीय लोकतंत्र की उच्च परंपराओं की विजय है। उन्होंने कहा कि जीएसटी एक भारत श्रेष्ठ भारत का उदाहरण है। जीएसटी बिल पूर्व और वर्तमान की सरकार के योगदान से पास हो रहा है।

पढ़ेंः

जीएसटी का मतलब है ‘ग्रेट स्टेप्स बाई टीम इंडिया। जीएसटी का मतलब है ‘ग्रेट स्टेप्स टुवर्ड्स ट्रांसफार्मेंशन। जीएसटी को लेकर संशय रहे, मेरे मुख्यमंत्री रहते समय मेरे मन में कई संशय थे। राज्यसभा में बहुमत न होने के कारण बिल संकट में आ सकता था, राज्यों और केंद्र के बीच विश्वास की आवश्यकता थी। सरकारी की कोशिश रही है कि जीएसटी बिल में सबके सुझावों को समाहित किया जा सके। उन्होंने कहा कि जीएसटी एक मोती है जिसे हम माला में पिरो रहे हैं, जो एक भारत को ताकत देता है। जीएसटी से ग्राहक ही राजा है का संदेश जाएगा।

उन्होंने कहा कि जीएसटी बिल एक देश में, एक मंच, एक मत, एक मंत्र और एक कर बन कर उभरा है । राज्यसभा में जीएसटी बिल पर वोटिंग में हम अंकगणित में कमजोर होते हुए भी सबकी मदद से आगे बढ़े। राज्यों का केंद्र पर भरोसा बढ़ा। यह लोकतंत्र की जीत है। यह सिर्फ बहुमत की नहीं सहमति की यात्रा है। जीएसटी बिल को हमने से किसी ने भी राजनीतिक मत का शिकार न होकर राष्ट्रनीति को महत्व दिया। बिल को लेकर शिकायतों के बावजूद सभी दलों ने इस पर आगे बढ़कर देश की भलाई को लेकर अहम कदम उठाया। हम जीएसटी पर बहुमत के आधार पर नहीं आम राय के आधार पर आगे बढ़ना चाहते थे।

पढ़ेंः

पीएम मोदी ने 5 एम पर दिया जोर

पांच बातें, मैन, मशीन, मटेरियल, मनी और मिनट का सदुपयोग करने पर अर्थव्यवस्था को बढ़ने के लिए अवसर नहीं तलाशने पड़ते हैं।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>