लश्कर आतंकी अली को पाक में उसके परिजनों से बात कराने की है तैयारी

Aug 11, 2016
एनआईए ने विदेश मंत्रालय से कहा कि वह जिंदा पकड़े गए आतंकी बहादुर अली को वाणिज्य दूत से संपर्क साधने दे ताकि वह अपने परिजनों से बात कर सके।

नई दिल्ली, प्रेट्र। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) ने विदेश मंत्रालय को कहा कि वह गिरफ्तार किए लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी बहादुर अली को वाणिज्य दूत से संपर्क साधने का मौका दे। ताकि वह अपने परिजनों से बात कर सके। एक अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि आतंकवाद रोधी एजेंसी एनआइए चाहती है कि अली की लाहौर में रह रहे उसके परिवार से मिलने की इच्छा को पूरा किया जाए। इसे मूर्तरूप देने के लिए वाणिज्य दूत से संपर्क साधने को कहा गया है। लश्कर आतंकी अली दरअसल अपने नौ भाई-बहनों में आठवें नंबर का है।

उसके पिता पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के पुलिस विभाग में काम कर चुके हैं। एनआइए के सूत्रों का कहना है कि 25 जुलाई को जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले से गिरफ्तार किया गया अली फिदाइन नहीं है। अली ने तीन बार कुपवाड़ा के हिंदवाड़ा में सेना और पुलिस पर तीन बार ग्रेनेड फेंकने की कोशिश की लेकिन वह विफल रहा। अली ने पूछताछ में बताया कि उन लोगों ने भारतीय सीमा को 11-12 जून को लांघा।

उसने लश्कर के दो अन्य आतंकियों साद और दारदा के साथ घुसपैठ की थी। यह सभी बातें उसने सेना को दिए अपने इकबालिया बयान में कही हैं। एनआइए कश्मीर घाटी में पिछले 34 दिनों से जारी हिंसा में लश्कर का हाथ होने के और सुबूत जुटाने में लगी है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>