ओडिसा में ‘नवाखाई’ त्‍योहार का उल्‍लास

Sep 06, 2016
ओडिसा में ‘नवाखाई’ त्‍योहार का उल्‍लास
नए पैदावार से बने पकवानों का भगवान को भोग लगाकर पश्‍चिम ओडिशा के लोग धूम-धाम से नवाखाई का त्‍योहार मना रहे हैं।

भुवनेश्वर (एएनआई)। कृषि संबंधित त्योहार ‘नवाखाई’ आज पूरे पश्चिम ओडिशा में उल्लास के साथ मनाया जा रहा है। इस अवसर पर यहां धान के नए पैदावार से बनाए गए पकवान का भोग लगाकर धरती मां को आभार प्रकट किया जाता है और अगले साल के अच्छे फसल की कामना की जाती है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने ओडिसा के लोगों को ‘नवाखाई जुहार’ के साथ शुभकामनाएं दी हैं।

Nuakhai Juhar. Greetings to the people of Odisha on this special festival. May this festival bring more prosperity in the lives of farmers.

ये भी पढ़ें :-  भाजपा नेता के घर से बरामद हुई नकली नोट छापने की मशीन, साथ ही पकड़ा गया इतना धन..

— Narendra Modi (@narendramodi)

इस अवसर पर लोग संबलपुर में मां सामालेश्वरी, कालाहांडी में मानिकेश्वरी, बोलंगीर में पटनेश्वरी, सोनपुर में सुरेश्वरी और सुंदरगढ़ में मां शेखरबासिनी को नवान्न (नये धान के पैदावार से चावल पकाकर) का भोग लगाते हैं। इसी तरह से हर गांव में ग्राम देवता को भोग लगाया जाता है।

नुआखाई तयोहार के जरिए लोग धरती मां को आभार व्यक्त करते हैं और अगली फसल के लिए आशीर्वाद मांगते हैं। वे नवान्न का भोग लगाकर अगले फसल के लिए कामना करते हैं।

लोग आपस में भी एक दूसरे को नुआखाई भेटघाट ग्रीटिंग्स का आदान-प्रदान करते हैं। इस दिन चावल के नए पैदावार से विभिन्न तरह के पकवान बनाए जाते हैं और संबधियों व दोस्तों के बीच बांटते हैं।

ये भी पढ़ें :-  भाजपा ने खेला दलित कार्ड, रामनाथ कोविंद को बनाया राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>