नशीले पदार्थों के खिलाफ सम्मिलित प्रयास की जरूरत: राष्ट्रपति

Jun 27, 2016
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने आतंकवाद, तस्करी और नशीले पदार्थो की गतिविधियों पर अपनी राय रखी।

नई दिल्ली, (पीटीआई)। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने आतंकवाद, तस्करी और नशीले पदार्थो की गतिविधियों को एक दूसरे से जुड़ी बताया है। उन्होंने कहा कि देश के सामाजिक जीवन में तबाही मचाने वाले इस सांठगांठ को तोड़ने के लिए सम्मिलित प्रयास की जरूरत है। उन्होंने कहा कि शराब और नशीले पदार्थों से मूल्यों को पतन हो रहा है और अपराध की दर में वृद्धि हुई है।

राष्ट्रपति ने कहा कि जब तक आतंक, तस्करी और नशीले पदार्थों की सांठगांठ को तोड़ा नहीं जाएगा, इनके खिलाफ लड़ना मुश्किल होगा। केवल सरकार के प्रयासों से इन बुराइयों को कभी खत्म नहीं किया जा सकता। इसके लिए बड़ी संख्या में गैर सरकारी और सिविल सोसायटी संगठनों को सामाजिक बुराइयों के खिलाफ जागरूकता के लिए मिलकर काम करना होगा।

ये भी पढ़ें :-  मुलायम के 10 से ज्‍यादा क़रीबी दाग़ी नेताओं का टिकट काटेंगे अखिलेश यादव, जानिए नाम

राष्ट्रपति ने रविवार को नशीले पदार्थों और मानव तस्करी विरोधी अंतरराष्ट्रीय दिवस के अवसर पर ये बातें कहीं। इस अवसर पर उन्होंने शराब और नशीले पदार्थों की रोकथाम के लिए उल्लेखनीय काम करने वालों को राष्ट्रीय पुरस्कार प्रदान किए।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected