6 साल से लिव इन में रह रहा युवक महिला के 30 लाख रूपये लेकर फरार

Jul 09, 2016
आरती समधारिया नाम की इस महिला की शिकायत के मुताबिक आशीष मोदी ने फर्जी दस्तखत के जरिए बैंक से उसके 30 लाख रूपये निकाल लिए।

अहमदाबाद। नवरंगपुरा के सांदिपानी में अपने रहने वाली 42 साल की एक महिला ने अपने लिव-इन पार्टनर पर फर्जी चैक के जरिए उसके 30 लाख रूपये निकाल लेने का आरोप लगाया है। आरती समधारिया नाम की इस महिला की शिकायत के मुताबिक आशीष मोदी ने फर्जी दस्तखत के जरिए बैंक से उसके 30 लाख रूपये निकाल लिए।

स्थानीय स्कूल में पढ़ाने वाली दो बच्चो की मां आरती आशीष के साथ पिछले 6 सालों से रह रही थी। शिकायत के मुताबिक आरती और आशीष मोदी की मुलाकात 6 साल पहले एक कार शो रूम में हुई थी। दोनों ने कार को लेकर एक दूसरे से बात की और फिर दोनों में दोस्ती हो गई। एक दिन आशीष ने आरती को बताया कि 12 साल पहले वो अपनी पत्नी से अलग हो गया था, क्योंकि आरती भी अपने पति से अलग रह रही थी इसलिए उसने आशीष को उसके साथ रहने का न्यौता दिया।

पुलिस के मुताबिक मामला तब सामने आया जब आरती 7 अप्रैल को अपने बच्चों की स्कूल की फीस जमा करने के लिए एटीएम से पैसे निकालने गई। उसे पता चला कि उसके एसबीआई और आइसीआइसीआइ बैंक अकाउंट में सिर्फ 200 और 500 रूपये बचे हैं। जब उसने बैंक स्टेटमेंट निकाला तो पता चला कि उसके दोनों अकाउंट से एक लाख रूपये निकाले गए हैं। जब वो एक्सिस बैंक गई तो पता चला कि उसके ओवर ड्राफ्ट अकाउंट से भी आठ लाख रूपये निकाले गए हैं। यही नहीं उसे ये भी पता चला कि उसके क्रेडिट कार्ड से भी आठ लाख रूपये निकाले गए हैं।

पढ़ें:

पुलिस के मुताबिक आरती ने तुरंत आशीष को फोन किया तो उसने बताया कि उसने ही पैसे लिए हैं और वो जल्द ही उन्हें लौटा देगा। आरती ने जब उससे इस बारे में ना बताने की शिकायत की तो उसने आरती का फोन उठाना ही बंद कर दिया।

आरती के मुताबिक आशीष ने फर्जी दस्तखत के जरिए उसके ओवरड्राफ्ट अकाउंट से पैसे निकाले और एक्सिस बैंक का पिन चुराकर एटीएम से पैसे निकाले। आरती के मुताबिक चार साल पहले आशीष ने बिजनेस के लिए 9 लाख रूपये लिए थे लेकिन एक साल बाद उसने सिर्फ उसे चार लाख रूपये ही लौटाए।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>