नम आंखों से बसने की चाहत लिए घरों को लौटने लगे पंडित

Jun 14, 2016
देश-विदेश से आए विस्थापित कश्मीरी पंडित नम आंखों से फिर से कश्मीर में बसने की चाहत लिए अपने घरों को लौटने लगे हैं।

श्रीनगर, (राज्य ब्यूरो)। मां क्षीर भवानी का वार्षिक मेला सोमवार को संपन्न हो गया। देश-विदेश से आए विस्थापित कश्मीरी पंडित नम आंखों से फिर से कश्मीर में बसने की चाहत लिए अपने घरों को लौटने लगे हैं। मंदिर परिसर के पास बनी सराय में लगभग एक हजार श्रद्धालु ही रुके हुए हैं।

गौरतलब है कि मां क्षीर भवानी जिन्हें मां राघेन्या भी कहा जाता है, कश्मीरी पंडितों की आराध्य देवी हैं। हर वर्ष गर्मियों में ज्येष्ठ अष्टमी को उनका वार्षिक मेला व मुख्य पूजा होती है। मां राघेन्या की वार्षिक पूजा का हवन गत शनिवार की शाम को शुरू हुआ था और पूर्णाहुति रविवार को मुख्य पूजा के साथ संपन्न हुई थी। सराय में अपने परिजनों के साथ बैठी राज किशोरी ने कहा कि मैं बीते 16 वर्षो से हर बार यहां आती हूं। पहले मैं और मेरा पति ही आते थे, लेकिन अब मैं अपनी बहू-बेटियों और नाती-पोतों को लेकर आ रही हूं। इन्हें भी पता चले कि हमारी जड़ें कहां हैं।

हर साल इसी उम्मीद में आते हैं कि यहां हालात ठीक हो गए होंगे और हम अपने पुश्तैनी घर पिंगलना-पुलवामा जाएं, लेकिन यह उम्मीद पूरी नहीं होती।सॉफ्टवेयर इंजीनियर निर्मल बट का कहना है कि हम लोग मूलत: हब्बाकदल के रहने वाले हैं। मैं उस समय तीन साल का था, जब हम लोग यहां से गए थे। मुझे तो पता भी नहीं था, हम कहां रहते थे। पांच साल पहले ही मैने हब्बाकदल में अपना पुराना मकान देखा। यह सही है कि मेरी पीढ़ी के कई कश्मीरी पंडित नौजवान कहते हैं कि कश्मीर में रोजगार के वह साधन नहीं हैं, जो हमें मुंबई या पुणे में मिल रहे हैं, लेकिन अपनी जमीन तो अपनी ही होती है। मेरी कई दोस्तों से बात होती है। सब यहां लौटना चाहते हैं, लेकिन हालात को लेकर आशंकित हैं।

रुपमा कौल ने कहा कि हमारा घर कुपवाड़ा के त्रेहगाम में था। विस्थापन के समय मैं दसवीं में पढ़ती थी। मुझे पता है कि हम किन हालात में यहां से गए और क्या मुश्किलें झेली। आज मेरी बेटी आठवीं में पढ़ रही है, वह अपना ननिहाल देखना चाहती है। मैं और मेरे पति चाहते हैं कि यहां वापस आकर रहें, लेकिन न सरकार गंभीर हैं और न यहां के सियासतदान। जिस तरह से हमारी कॉलोनी का विरोध हो रहा है, उससे हमारे समुदाय के लेाग डरे हुए हैं।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>