जयदेव ठाकरे ने कहा, ऐश्वर्य मेरा बेटा नहीं

Jul 20, 2016
बालासाहेब के बेटे जयदेव ने कहा कि ऐश्वर्य उनका बेटा नहीं है। मालूम हो कि जयदेव की दूसरी पत्नी स्मिता के दो बेटे राहुल व ऐश्वर्य और बेटी अदिति हैं।

विनय डाल्वी (मिड डे), मुंबई। शिवसेना संस्थापक बालासाहेब ठाकरे की वसीयत को लेकर मुंबई हाई कोर्ट में सुनवाई के दौरान बुधवार को चौंकाने वाली बात सामने आई। बालासाहेब के बेटे जयदेव ने कहा कि ऐश्वर्य उनका बेटा नहीं है। मालूम हो कि जयदेव की दूसरी पत्नी स्मिता के दो बेटे राहुल व ऐश्वर्य और बेटी अदिति हैं।

अदालत में 10 हजार वर्गफीट में बने बंगले मातोश्री को लेकर बालासाहेब की वसीयत पर सुनवाई चल रही है। जयदेव का कहना है कि यह वसीयत बालासाहेब से उस समय तैयार करवाई गई, जब वह दिमागी तौर पर अस्वस्थ थे। उद्धव ने बालासाहेब को बरगलाकर वसीयत तैयार करवाई। बुधवार को अदालत में जयदेव से जिरह चल रही थी। इस दौरान उद्धव के वकील रोहित कपाडि़या ने जयदेव से पूछा कि क्या आपने अपने पिता से बंगले के पहले तल के बारे में सवाल नहीं किया कि उस पर कौन रहता है। इस पर जयदेव ने बताया कि वहां ऐश्वर्य रहता था।

वकील ने पलटकर पूछा कि क्या ऐश्वर्य उनका बेटा है। जयदेव से सवाल का घुमाकर जवाब देने की कोशिश की, पर जस्टिस गौतम पटेल ने उनसे हां या ना में जवाब देने को कहा। तब जयदेव ने बताया कि ऐश्वर्य उनका बेटा नहीं है। जिरह के दौरान जयदेव से मातोश्री में आने-जाने को लेकर और पिता से संबंध पर भी सवाल-जवाब हुआ। गुरुवार को भी जिरह जारी रह सकती है।

क्या है वसीयत

अपनी वसीयत में बालासाहेब ने जयदेव के नाम बंगले का कोई हिस्सा नहीं लिखा है। बंगले का भूतल शिवसेना के कार्यालय के लिए, पहला तल पोते ऐश्वर्य के लिए और दूसरा तल बालासाहेब के बड़े बेटे स्वर्गीय बिंदुमाधव की पत्नी माधवी के नाम किया गया है। तीसरा तल उद्धव, उनकी पत्नी और बेटों आदित्य व तेजस के नाम है। पोतों में एकमात्र ऐश्वर्य ही हैं, जिनका नाम बालासाहेब ने अपनी वसीयत में लिखा है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>