छोटा राजन के खिलाफ किताब लिखने पर की गई थी पत्रकार जे डे की हत्या

Aug 06, 2016
अपने खिलाफ किताब लिखे जाने से नाराज छोटा राजन ने पत्रकार जे.डे को मौत के घाट उतरवा दिया था।

मुंबई। प्रत्यर्पण कर लाए गए अंडरवर्ल्ड डाउन छोटा राजन ने जो खुलासा किया है वह बेहद चौंकानेवाला है। सीबीआई के मुताबिक, साल 2011 में पत्रकार जे.डे. की हत्या छोटा राजन के ही इशारे पर की गई थी क्योंकि जे.डे. ने अपनी किताब में उसे गलत तरीके से पेश किया जबकि दाऊद इब्राहिम के बारे में बढ़ाचढ़ा कर लिखने जा रहा था।

जे.डे. की हत्या के पीछे का ये खुलासा सीबीआई ने शुक्रवार को विशेष मकोका कोर्ट में दाखिल पूरक आरोपपत्र में किया। जेडे हत्याकांड के मास्टर माइंड छोटा राजन को दिल्ली के तिहाड़ जेल से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए पेश किया गया था। जेडे को 11 जून 2011 को मुंबई के पोवई में मोटर साइकिल पर सवार अज्ञात हमलावरों ने गोलियों से छलनी कर मौत के घाट उतार दिया था।

पुलिस के लिए शर्मिंदगी की बात ये है कि दुबई में रहनेवाले जिस एनआरआई रवि रतेश्वर को गवाह के तौर पर पेश किया गया था उसे सीबीआई ने अपने आरोपपत्र में आरोपी बनाया है।

ये भी पढ़ें-

सीबीआई ने आरोपपत्र में बताया है कि जे. डे. दो किताब लिखने जा रहा था। जिसमें से जे.डे. एक किताब में छोटा राजन के ऊपर जबकि दूसरी किताब में दाऊद इब्राहिम कैसे एक छोटे स्मग्लर से अंडरवर्ल्ड का डाउन बन गया उसके बारे में लिखा जाना था। हालांकि, उस वक्त इस किताब की कुछ प्रतियां लीक हो गई थी। जिसके बाद छोटा राजन ने जे. डे. पर इस बात का दबाव डाला कि वह ऐसी किताब ना लिखे। लेकिन जे. डे. अपने रूख पर कायम था और उल्टा उसने छोटा राजन के खिलाफ एक अपमानजनक संपादकीय लिखा। जिसके बाद छोटा राजन और बौखला गया था।

ये भी पढ़ें-

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>