अब ड्राइविंग लाइसेंस साथ रखने की जरूरत नहीं, अाज से नई व्यवस्था

Sep 07, 2016
अब ड्राइविंग लाइसेंस साथ रखने की जरूरत नहीं, अाज से नई व्यवस्था
ड्राइविंग लाइसेंस और वाहन पंजीकरण प्रणाली को डिजिटल लॉकर के साथ इंट्रीग्रेशन को आज केन्द्रीय कानून और आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद ट्रांसपोर्ट भवन में लॉन्च करेंगे।

नई दिल्ली। अब आप ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी के बिना भी वाहन चला सकेंगे और आपका चालान नहीं कटेगा। इसके लिए बस आपको आपने दस्तावेज की कॉपी डिजिटल लॉकर में रखनी होगी। ट्रैफिक पुलिस या अन्य एजेंसियां उन डॉक्युमेंट्स को जरुरत पड़ने पर डिजीलॉकर ऐप के जरिए पुष्टि कर सकेंगे।

इसके लिए यह नई व्यवस्था परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के ड्राइविंग लाइसेंस और वाहन पंजीकरण प्रणाली को डिजिटल लॉकर के साथ इंट्रीग्रेशन को आज केन्द्रीय कानून और आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद ट्रांसपोर्ट भवन में लॉन्च करेंगे। इस दौरान केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी मौजूद रहेंगे।

ये भी पढ़ें :-  नवनीति सिंह बने केरल उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश

पढ़ेंः

इस सर्विस के शुरू होने के बाद कहीं भी कभी भी वाहन चालक के लाइसेंस और आरसी को ऑन द स्पॉट चैक करना बेहद आसान होगा। जो अधिकारी दस्तावेजों की जांच कर रहा होगा उसे इसके लिए एक मोबाइल ऐप की जरूरत होगी। ये ऐप चालक और जांच अधिकारी दोनों के पास होगा। ऑनलाइन वेरिफिकेशन में अगर किसी तरह के उल्लंघन का मिलता है तो ऐप की मदद से पेनल्टी पॉइंट्स भी भरी जा सकेगी।
जानिए, क्या है डिजिलॉकर-
डिजिलॉकर आपको अपने सारे महत्वपूर्ण दस्तावेजों को एक जगह पर डिजीटली स्टोर करने की सुविधा देता है। इस सुविधा से पैन कार्ड, पासपोर्ट, मार्क शीट्स, डिग्री सर्टिफिकेट्स जैसे बेहद अहम डॉक्युमेंट्स बहुत सुरक्षित रखे जा सकते हैं। इसपर अकाउंट बनाने के लिए आपको आधार कार्ड नंबर और मोबाइल नंबर चाहिए होगा। साइन अप के लिए http://digitallocker.gov.in/ पर जाना होगा। यहां आप अपने दस्तावेजों को माई सर्टिफिकेशन सेक्शन में अपलोड कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें :-  आइडिया सेल्युलर और वोडाफोन का हुआ विलय, इस तरह बनी देश की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी

पढ़ेंः

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>