दो-तीन दिन में केरल पहुंचेगा मानसून, उत्तर भारत को करना पड़ेगा इंतजार

Jun 05, 2016
ऐसा नियम है कि 10 मई के बाद इन 14 केंद्रों के 60 फीसद में लगातार दो दिनों तक 2.5 मिलीमीटर वर्षा दर्ज होने पर दूसरे दिन केरल में मानसून पहुंचने की घोषणा कर दी जाती है।

जागरण न्यूज नेटवर्क, नई दिल्ली। केरल में दो-तीन दिनों में मानसून के पहुंचने के हालात बन गए हैं। जबकि उत्तर भारत के कई हिस्सों में गर्मी का प्रकोप जारी है। दो दिनों बाद ही इससे राहत मिलने की उम्मीद है।

भारतीय मौसम विभाग (आइएमडी) के मुताबिक, केरल में पिछले कुछ दिनों से बारिश हो रही है। विभाग के अधिकारी लक्षद्वीप, केरल और कर्नाटक के मंगलूर स्थित 14 मौसम केंद्रों में दर्ज किए गए डाटा का विश्लेषण कर रहे हैं। ऐसा नियम है कि 10 मई के बाद इन 14 केंद्रों के 60 फीसद में लगातार दो दिनों तक 2.5 मिलीमीटर वर्षा दर्ज होने पर दूसरे दिन केरल में मानसून पहुंचने की घोषणा कर दी जाती है। बशर्ते हवा का बहाव और बादल निर्माण भी अनुकूल हों। केरल में आम तौर पर एक जून को मानसून पहुंचता है लेकिन आइएमडी ने इस साल एक सप्ताह देरी से पहुंचने की भविष्यवाणी की थी।

आइएमडी के मुताबिक, राजस्थान, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, मध्य प्रदेश और गुजरात में भीषण गर्मी है। इन इलाकों में अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक बना हुआ है। जबकि पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश, सिक्किम तथा तटीय आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, असम एवं मेघालय के कई इलाकों में रविवार को बारिश हुई।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>