योग दिवस: जानें, सरकार ने कितना और कैसे किया खर्च

Jun 21, 2016
इस बार सरकार ने योग दिवस पर करीब 20 करोड़ रुपये खर्च किया है। जबकि पिछले साल आरटीआइ के अनुसार, इस अवसर पर आयुष ने 32.5 करोड़ रुपये खर्च किए थे।

नई दिल्ली। रविवार को नरेंद्र मोदी सरकार के दो उच्चाधिकारियों- वित्त मंत्री अरुण जेटली और शहरी विकास मंत्री एम वेंकैय्या नायडु ने नई दिल्ली के राजपथ पर योग गुरु रामदेव द्वारा आयोजित इवेंट में हिस्सा लिया। और अब देश में कई जगहों पर बड़े-बड़े आयोजन किए जा रहे हैं। लेकिन मूल सवाल यह है कि अब इन आयोजनों के लिए कौन खर्च कर रहा है और सरकार पर इसके लिए कितना खर्च का बोझ पड़ेगा।

ये भी पढ़ें :-  एक बार फिर से मानवता हुई शर्मसार, बेटी की लाश कंधे पर उठाकर 2 किलोमीटर तक चला पिता

सरकारी सूत्रों ने एनडीटीवी को बताया बाबा रामदेव के पतंजलि योगपीठ द्वारा आयोजित ऐसे इवेंट के लिए केंद्र खर्च नहीं कर रही है और न ही आयुष के पार्टनर 21 योग संस्थानों द्वारा ऐसे आयोजनों पर केंद्र का कोई खर्च है। इसका अर्थ यह है कि ऐसे इवेंट के लिए मुख्य मंत्रालय पर ही पूरा जिम्मा है। आयुष अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के इस दूसरे वर्ष के आयोजन पर करीब 20 करोड़ रुपये खर्च करेगा। टेलीविजन, अखबारों, जर्नल और सोशल मीडिया जैसे प्लेटफार्म पर विज्ञापनों, अभियानों व विशेष कार्यक्रमों के लिए कुल रकम का करीब आधा हिस्सा खर्च किया जाएगा।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘योग सत्र के प्रतिभागियों के लिए सरकार टीशर्ट्स, कैप, मैट जैसे एसेसरीज पर खर्च करेगी। लीबिया और यमन को छोड़कर संयुक्त राष्ट्र में 193 देश हैं, जहां योग दिवस का आयोजन हो रहा है।‘

ये भी पढ़ें :-  राज बब्बर का CM योगी आदित्यनाथ पर वार- कहा, या तो योगी हैं या मनोरोगी हैं

आरटीआइ डाटा ने पिछले वर्ष अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आयुष द्वारा 32.5 करोड़ रुपये खर्च किए जाने का खुलासा किया था। इस साल बजट काफी कम है, लेकिन सरकार इसे बड़े व्यापक स्तर पर करने जा रही है। सूत्रों ने बताया कि 57 केंद्रीय मंत्री योग दिवस के लिए देश से बाहर गए हैं। आयोजन के 20 करोड़ के बजट में न तो सुरक्षा व्यवस्था पर होने वाला व्यय शामिल है न ही विभिन्न राज्य सरकारों का व्यय शामिल है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>