पवित्र गुफा में हिमलिंग का पहला दर्शन आज

Jul 01, 2016
दोनों आधार शिविरों से शनिवार तड़के यात्रा को पवित्र गुफा की ओर रवाना किया जाएगा, जहां श्रद्धालु हिमलिंग का पहला दर्शन करेंगे।

राज्य ब्यूरो, जम्मू। कड़ी सुरक्षा और बम-बम भोले के जयघोष के बीच शुक्रवार तड़के यात्री निवास भगवती नगर जम्मू व परेड से रवाना हुआ 1282 श्रद्धालुओं का पहला जत्था देर शाम आधार शिविर बालटाल व पहलगाम पहुंच गया। वहां भी पहले से मौजूद श्रद्धालुओं के चलते पूरा क्षेत्र शिव की नगरी में तबदील हो गया है। पहलगाम में शाम साढ़े सात बजे और बालटाल में रात नौ बजे काफिला पहुंचा। वहीं, दोनों आधार शिविरों से शनिवार तड़के यात्रा को पवित्र गुफा की ओर रवाना किया जाएगा, जहां श्रद्धालु हिमलिंग का पहला दर्शन करेंगे।

ये भी पढ़ें :-  यूपी में 5 वर्षों से अखिलेश सीएम हैं, फिर क्यों पूछते हैं, अच्छे दिन कब आएंगे-अमित शाह

यात्रा के आधार शिविर भगवती नगर में सुबह उपमुख्यमंत्री डॉ. निर्मल सिंह ने श्रद्धालुओं के पहले जत्थे को पहलगाम व बालटाल के लिए रवाना किया। इस दौरान उपमुख्यमंत्री ने पूजा-अर्चना कर नारियल भी फोड़ा। इस मौके पर सांसद जुगल किशोर, पर्यटन राज्यमंत्री प्रिया सेठी भी मौजूद रहीं। यात्री निवास से कुल 1138 श्रद्धालुओं का जत्था रवाना हुआ। इसमें 900 पुरुष, 225 महिलाएं तथा 13 बच्चे शामिल थे। यह 13 बसों, 24 टैंपों, चार एसयूवी और एक इनोवा गाड़ी में रवाना हुए। वहीं परेड से 143 साधु और एक साध्वी भी एसआरटीसी के तीन वाहनों में पहलगाम व बालटाल के लिए रवाना हुए।

ये भी पढ़ें :-  बड़ी ख़बर- Reliance Jio की फ्री सुविधाओं का खुला राज़, भारत सरकार को 685 करोड़ का नुकसान, अब सरकार सभी यूज़र्स से

इस दौरान श्रद्धालुओं में भारी उत्साह नजर आया। यात्रा के लिए रवाना हुए श्रद्धालु देर रात ही यात्री निवास में पहुंच गए थे। श्रद्धालुओं के आधार शिविर पहुंचने का सिलसिला रात भर चलता रहा। जत्थे को सुबह करीब साढ़े चार बजे रवाना करना था, लेकिन पहली बस सुबह 5.05 बजे रवाना हुई। अंतिम गाड़ी आधार शिविर से 5.25 मिनट पर निकली। इस दौरान आधार शिविर में पूरा माहौल शिवमय था। जत्थे के साथ सुरक्षा के कड़े प्रबंध थे। सुरक्षाबलों की गाडिय़ों के अलावा एंबुलेंस भी साथ थीं। एसएसपी जम्मू डॉ. सुनील गुप्ता ने कहा कि सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। इस मौके पर प्रशासन की ओर से जम्मू के डिवीजनल कमिश्नर डॉ. पवन कोतवाल, डिप्टी कमिश्नर सिमरनदीप सिंह पर्यटन विभाग की निदेशक सुषमा चौहान, केंद्रीय रिजर्व पुलिस व जम्मू कश्मीर पुलिस तथा प्रशासन के कई वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

ये भी पढ़ें :-  उप्र चुनाव : चौथे चरण का प्रचार थमा, मतदान 23 फरवरी को

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected