पहले रेलवे विवि के लिए आज होंगे सहमति पत्र पर हस्ताक्षर

Aug 16, 2016
रेलवे विश्वविद्यालय की स्थापना के बाद यह संबद्ध विश्वविद्यालय के रूप में कार्य करेगा। पुणे, नासिक, जमालपुर, सिकंदराबाद और लखनऊ स्थित रेलवे के पांच अन्य प्रमुख केंद्रीय प्रशिक्षण सं

वडोदरा, पीटीआई : देश के पहले रेलवे विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए बुधवार को नेशनल एकेडमी ऑफ इंडियन रेलवे (एनएआइआर) और महाराजा सयाजीराव विश्वविद्यालय के बीच सहमति पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए जाएंगे। इस विश्वविद्यालय से रेल कर्मचारी अकाउंट्स और पर्सनेल जैसे विभिन्न क्षेत्रों में एमबीए की डिग्री हासिल कर सकेंगे।

इसके पीछे सोच यह है कि रेलवे विश्वविद्यालय की स्थापना के बाद यह संबद्ध विश्वविद्यालय के रूप में कार्य करेगा। पुणे, नासिक, जमालपुर, सिकंदराबाद और लखनऊ स्थित रेलवे के पांच अन्य प्रमुख केंद्रीय प्रशिक्षण संस्थान इसके कॉलेजों की तरह संबद्ध रहेंगे।

ये भी पढ़ें :-  सरकार बनने पर किसानों को पट्टे पर जमीन दी जाएगी : मायावती

इन संस्थानों में रेलवे के विभिन्न क्षेत्रों के अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जाता है। रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस विश्वविद्यालय की स्थापना का उद्देश्य इंडियन रेलवे अकाउंट्स सर्विस (आइआरएएस), इंडियन रेलवे पर्सनेल सर्विस (आइआरपीएस) और इंडियन रेलवे स्टोर सर्विस (आइआरएसएस) के अधिकारियों की पेशेवर प्रबंधन शिक्षा के स्तर को बढ़ाना है।

सहमति पत्र पर केंद्रीय रेल मंत्री सुरेश प्रभु और गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी हस्ताक्षर करेंगे। इसी महीने आइआरएसएस के पहले बैच के साथ पाठ्यक्रम की शुरुआत हो जाएगी।

पढ़ें-

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected