दिल्ली की इस जगह ने महंगाई में शंघाई अौर न्यूयार्क को भी पीछे छोड़ दिया !

Jun 15, 2016
एक ताजा सर्वेक्षण के मुताविक दिल्ली स्थित कनाट पैलेस विजनेस करने के लिहास से दुनिया में सबसे महंगी जगहों में सातवें स्थान पर है।

मुंबई(पीटीअाई)। प्रमुख कार्यालय स्थल के लिहाज से दिल्ली का कनॉट प्लेस (सीपी) दुनिया का सातवां सबसे महंगा स्थान है। एक ताजा सर्वेक्षण के मुताविक दिल्ली स्थित कनॉट पैलेस बिजनेस करने के लिहाज से दुनिया में सबसे महंगी जगहों में शामिल है।

मुंबई स्थित बांद्रा-कुर्ला कॉम्पलेक्स को इस लिस्ट में 19वें स्थान पर अौर नरीमन प्लाइंट को 34वें स्थान पर रखा गया है। संपत्ति सलाहकार सेवा देने वाली कंपनी (सीबीअारई) ने अपने ताजा सर्वे में ये सूची जारी की है। इस संस्था ने एक बयान में कहा कि करीब 10 हजार रुपए प्रति स्क्वायर फुट प्रति वर्ष की दर के हिसाब से नई दिल्ली का केंद्रीय व्यापार स्थल(सीबीडी) कनॉट प्लेस विश्व की प्राइम ऑफिस मार्केट की सूची में सातवें नंबर पर है।

पढ़ेंः

इस सूची में शीर्ष पर हॉन्गकांग है, जो विश्व में अॉफिस के लिहाज से सबसे महंगी जगहों में शामिल है। यहां एक स्क्वायर फुट ऑफिस स्पेस की कीमत 19493 रुपए प्रति वर्ष है। दूसरे स्थान पर लंदन सेंट्रल है, जहां एक स्क्वायर फुट अॉफिस स्पेश की कीमत 17600 रुपए प्रति वर्ष है। इसके बाद पेइचिंग (फाइनेंस स्ट्रीट), पेइचिंग(सीबीडी), हॉन्गकांग(वेस्ट काउलून) क्रमशः तीसरे, चौथे अौर पाचवें स्थान पर है।

उन्होंने कहा की कनॉट पैलेस दिल्ली के केंद्र में होने अौर बेहतर कनेक्टिविटी के कारण यहां बैंक अौर अन्य वित्तीय संस्थाअों के अलावा इंजिनीयरिंग फर्म को अपनी अौर अाकर्षित किया है। उन्होंने कहा कि भारत लगातार बहुराष्ट्रीय कंपनियों के लिए एक बेहतर विकल्प के रुप में उभर रहा है।

पढ़ेंः

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>