हिंडन एयरबेस से यात्री विमान उड़ाने पर होगा विचार : पर्रिकर

Jun 12, 2016
हिंडन एयरबेस पर दुनिया के सबसे बड़े मालवाहक विमानों में शुमार जहाज हैं। विभिन्न सिविल एयर लाइंस से यात्री विमान उड़ाने के बारे में बातचीत की जाएगी

राज कौशिक, गाजियाबाद : केंद्रीय रक्षा मंत्री मनोहर पर्रीकर ने साहिबाबाद हिंडन एयरबेस के व्यावसायिक प्रयोग की संभावनाओं पर विचार करने का आश्वासन दिया है। कहा कि वह इस विषय में तमाम संभावनाओं की तलाश करेंगे।

वह दिल्ली से सटे कौशांबी में शुक्रवार देर रात शहर के करीब सौ खास लोगों से रूबरू हुए। इस दौरान दैनिक जागरण ने सवाल किया कि क्या हिंडन एयरबेस दिल्ली हवाई अड्डे का बोझ कम कर सकता है? केंद्रीय रक्षा मंत्री ने कहा कि उनकी जानकारी के मुताबिक हिंडन एयरबेस पर दुनिया के सबसे बड़े मालवाहक विमानों में शुमार जहाज हैं। विभिन्न सिविल एयर लाइंस से यात्री विमान उड़ाने के बारे में बातचीत की जाएगी। वे भी यात्री विमान तभी उड़ाती हैं जब उन्हें पर्याप्त संख्या में यात्री मिलते हैं।

40 लाख आवेदन विचाराधीन

केंद्रीय रक्षा मंत्री ने इस सवाल को सिरे से खारिज किया कि फौज में भर्ती होने के लिए अब लोग रुचि नहीं लेते। उन्होंने कहा कि आज भी सिर्फ जवान स्तर पर भर्ती होने के लिए लगभग 40 लाख आवेदन उनके पास विचाराधीन हैं। अफसरों के पदों के आवेदन इनसे अलग हैं। चूंकि भर्ती की प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी गई है, इसलिए पहले की तरह भगदड़ होने से हादसे नहीं होते।

हादसों की खबर न आने के कारण कुछ लोग मान लेते हैं कि भर्ती हो ही नहीं रही है। उन्होंने इस बात को भी नहीं माना कि फौज में अफसरों के पद खाली पड़े हैं। कहा कि हर साल अफसरों के पद बढ़ाए जा रहे हैं, इसलिए पिछले वर्षो से तुलना करते हुए पद खाली बता दिए जाते हैं।

कोई कमी नहीं बुलेट प्रूफ जैकेट की

रक्षा मंत्री ने इस सवाल को भी खारिज किया कि भारतीय जवानों के पास पर्याप्त संख्या में बुलेट प्रूफ जैकेट नहीं हैं। उन्होंने बताया कि हाल ही में ली गईं एक लाख 80 हजार बुलेट प्रूफ जैकेट का जवान प्रयोग भी कर रहे हैं। उनके साथ केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह भी उपस्थित थे।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>