स्मार्टफोन के बढ़ते इस्तेमाल के बीच भारत में 3 साल में बढ़े 300% साइबर क्राइम

Aug 25, 2016
स्मार्टफोन के बढ़ते इस्तेमाल के बीच भारत में 3 साल में बढ़े 300% साइबर क्राइम
भारत में पिछले तीन सालों के भीतर साइबर अपराध में करीब तीन सौ फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है।

नई दिल्ली, प्रेट्र : भारत में इंटरनेट और स्मार्टफोन के बढ़ते इस्तेमाल के साथ साइबर अपराध के मामले भी तेजी से बढ़ रहे हैं। पिछले तीन बरसों में ऐसे मामलों में तीन सौ फीसद तक की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। एसोचैम-पीडब्लूसी के संयुक्त अध्ययन में साइबर अपराध की गंभीरता सामने आई है।

यह रिपोर्ट सूचना प्रौद्योगिकी कानून के तहत वर्ष 2011-14 के बीच दर्ज मामलों पर आधारित है। इस अवधि में भारत समेत दुनिया भर में साइबर हमलों में वृद्धि हुई है। ज्यादातर साइबर हमले अमेरिका, तुर्की, चीन, ब्राजील, पाकिस्तान, अल्जीरिया, यूरोप और संयुक्त अरब अमीरात से किए गए। विशेषज्ञों का कहना है कि इंटरनेट और स्मार्टफोन के बढ़ते चलन के कारण भारत हैकरों के निशाने पर है।

पढ़ें-

अध्ययन में कहा गया, ‘साल दर साल साइबर हमलों की संख्या, तीव्रता और प्रभाव में वृद्धि हो रही है। हमलावर परमाणु संयंत्र, रेलवे, परिवहन प्रणाली या अस्पताल जैसे महत्वपूर्ण तंत्र पर नियंत्रण हासिल कर सकता है। इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं। बिजली आपूर्ति, जल प्रदूषण या बाढ़, परिवहन प्रणाली आदि को अस्त-व्यस्त किया जा सकता है। सिर्फ अमेरिका में ही वर्ष 2012-15 के बीच अतिसंवेदनशील संस्थानों पर साइबर हमलों के मामलों में 50 फीसद तक की वृद्धि हुई है।’

भारतीय कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम (सर्ट) के मुताबिक वर्ष 2015 में सुरक्षा तंत्र पर तकरीबन 50 हजार साइबर हमले किए गए। अध्ययन में ज्यादातर ऑपरेशनल सिस्टम को निशाना बनाने की बात कही गई है। विशेषज्ञों ने साइबर हमलों से बचने के लिए साइबर खुफिया जानकारी साझा करने की सलाह दी है, ताकि कंप्यूटर सिस्टम की पुख्ता सुरक्षा की जा सके।

पढ़ें-

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>