कांग्रेस का आरोप ऊना के दलितों को मुआवजा नहीं देना चा‍हती सरकार

Jul 26, 2016
गुजरात में चमड़ा उद्योग से जुड़े दलितों की पिटाई और उन्‍हें पूरा मुआवजा न दिए जाने के मुद्दे पर आज कांग्रेस के नेता मधुसूदन मिस्‍त्री ने केंद्र को जमकर खरीखोटी सुनाई।

अहमदाबाद। गुजरात के ऊना में हुई दलितों की पिटाई के मुद्दे पर आज कांग्रेस के नेता मधुसूदन मिस्त्री ने केंद्र सरकार को जमकर कोसा। उन्होंने आरोप लगाया कि जिस मुआवजे की बात सरकार द्वारा की गई गई थी, उन्हें वह राशि अब तक नहीं मिली है। उनका कहना है कि प्रशासन की तरफ से उन्हें महज एक लाख रुपये ही दिए गए हैं। केंद्र पर निशाना साधते हुए मिस्त्री ने कहा कि उनके पास पैसे नहीं है या पैसा देना नहीं चाहते? उन्होंने सरकार पर मामले में उदासीनता बरतने का भी आरोप लगाया है।

ये भी पढ़ें :-  फ़ैल हुआ बीजेपी का ‘सबका साथ, सबका विकास’ नारा, यूपी और उत्तराखंड में किसी मुस्लिम को नहीं दिया टिकट

गौरतलब है कि पिछले दिनों गुजरात के सोमनाथ गीर जिले के ऊना में चमड़ा उद्योग से जुड़े चार दलितों की बेहरमी से पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद सभी का ध्यान इस ओर गया था। इनकी पिटाई गौरक्षकों द्वारा की गई थी। गौरक्षकों का आरोप था कि यह सभी गौ हत्या प्रकरण से जुड़े हुए हैं। हालांकि बाद में पता चला कि इन्हें गुजरात की पुलिस ने ही इन गौरक्षकों के हवाले किया था। इसकी पुष्टि खुद वहां के डीएसपी ने की थी। गौरक्षक दल से जुड़े लोग इन दलितों को लगातार गांव में घुमाकर तीन घंटे तक पीटते रहे। पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद इस मामले में गुजरात की मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल ने मामले की जांच के आदेश दे डाले। इस मामले में चार पुलिसकर्मियों को भी निलंबित कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें :-  साइकिल चिह्न मिलने के बाद भी डरे हैं अखिलेश यादव, सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की कैविएट
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected