किन्नरों को भेदभाव से बचाने के लिए सरकार लाएगी बिल

Jul 21, 2016
किन्नरों को भेदभाव से बचाने के लिए सरकार संसद में बिल लाएगी।ट्रांसजेंडर पर्सन (प्रोटेक्शन ऑफ राइट्स) बिल 2016 को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है।

नई दिल्ली, प्रेट्र । किन्नरों को भेदभाव से बचाने और उनके अधिकारों के संरक्षण के लिए केंद्र सरकार जल्द ही एक विधेयक लाएगी। संसद में पेश करने के लिए केंद्रीय कैबिनेट ने बुधवार को ट्रांसजेंडर पर्सन (प्रोटेक्शन ऑफ राइट्स) बिल 2016 को मंजूरी दे दी। उल्लेखनीय है कि पिछले साल अप्रैल में इसी मसले पर राज्यसभा ने एक निजी बिल पास किया था। तब सरकार ने आश्वासन दिया था कि इस संबंध में व्यापक विचार-विमर्श के बाद वह एक नया विधेयक लेकर आएगी।

एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि इस विधेयक के जरिये सरकार किन्नरों के सामाजिक, आर्थिक और शैक्षणिक सशक्तीकरण के लिए एक तंत्र विकसित करेगी। इस विधेयक से हाशिए पर मौजूद इस तबके के लोगों को लांछन, भेदभाव व उत्पीड़न से उबरने और मुख्यधारा में शामिल होने में मदद मिलेगी। पुरुष या महिला किसी भी वर्ग में शामिल नहीं होने के कारण किन्नर समुदाय देश के सबसे वंचित तबकों में से एक है। इस समुदाय के प्रति होने वाले भेदभाव को खत्म कराने के लिए 24 अप्रैल, 2015 को राज्यसभा ने निर्दलीय सदस्य तिरुचि शिवा के एक निजी बिल को पास किया था।

पिछले 45 साल में यह पहला मौका था जब संसद के उच्च सदन ने कोई निज बिल पास किया था। कैबिनेट ने एक अन्य फैसले में बेनामी लेनदेन कानून में संशोधन के लिए एक विधेयक संसद में पेश करने का फैसला किया। इसके अलावा मोजाम्बिक के साथ एयर सर्विस समझौते और स्विट्जरलैंड के साथ कौशल विकास के लिए समझौते को भी मंजूरी दी।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>