स्वास्थ्य के क्षेत्र में केंद्र हर तरह की मदद को तैयार: नड्डा

Jul 29, 2016
लोकसभा में केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य ने स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्र में हर राज्‍यों को केंद्र की ओर से मदद देने का आश्‍वासन दिया।

नई दिल्ली (जेएनएन)। आज लोकसभा में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने सदन के सदस्यों के सवालों के जवाब में कहा कि केंद्र सरकार राज्यों को हर संभव मदद देने के लिए तैयार है। हम राज्यों को हर तरह का रसद समर्थन करना चाहते हैं। हमने इस साल अभी तक बीमारियों की रोकथाम के लिए उत्तर प्रदेश को 1431 करोड़ रुपये दिए हैं और आग्रह करते है कि राज्य इसे जल्दी इस्तेमाल करे, ताकि हम उन्हें नया फंड जारी कर सके। साथ ही सदन को बताया की सरकार हेपेटाइटिस ‘बी’ और ‘सी’ जैसी बीमारियों के रोकथाम के लिए एक जागरूकता कैंपेन चला रही है।

ये भी पढ़ें :-  योगी ने जावीद अहमद को DGP पद से हटा, सुलखान सिंह को यूपी का नया DGP बनाया

साथ ही सरकार ने लोगों के बेहतर स्वास्थ्य पर नजर रखने के लिए हर जिले में जिला स्तरीय सतर्कता निगरानी समिति का गठन किया। हर जिले का सांंसद इस जिला स्तरीय समिति का सदस्य है। मेरा सांसदों से अनुरोध है कि अपने-अपने जिला में होने वाली इस समिति की नियमित बैठकों में हिस्सा लें ताकि बीमारियों से निपटने के समाधान निकाले जा सके। हर साल मई के आखिरी शनिवार को इस जिला स्तरीय सतर्कता निगरानी समिति की बैठक होगी। इसके अलावा इस साल यह बैठक 5 अगस्त को भी होगी। इन सभी बैठकों की अध्यक्षता खुद सांसद करेंगे। सभी सांसदों को अपने जिले में होने वाली बैठकों में हिस्सा लेना होगा। अगर किसी वजह से सांसद इन बैठकों में हिस्सा नहीं ले सके तो सहुलियत के लिए बैठक की तारीख बदली जा सकेगी।

ये भी पढ़ें :-  बलात्कार के आरोप में लखनऊ जेल में बंद सपा मंत्री गायत्री प्रसाद को मिली जमानत

नवजात बच्चे और मां की सुरक्षा के लिए पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि एनएचएल के तहत हर जिले में 5 ‘कॉंटिनेंट केयर’ सिस्टम स्थापित किया गया है। यह सिस्टम बच्चे के जन्म लेने के पहले से मां की देखभाल करता है। फिर जन्म के बाद तक मां-बच्चे की सुरक्षा का ध्यान रखता है। इसके लिए एनएचएल द्वारा फंडिंग का भी प्रावधान है जो मानव संसाधन से लेकर सारी व्यवस्थाओं का पूरा देखभाल करता है। हम चाहते हैं कि मां-बच्चे की सुरक्षा सुनिश्चित हो।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>