जीएसटी पर बड़ी सफलता, लेकिन आगे कम नहीं हैं चुनौतियां

Aug 04, 2016
तमाम अड़चनों और विपक्ष के लंबे विरोध के बाद बुधवार को राज्यसभा में वस्तु और सेवा कर विधेयक (जीएसटी बिल) पारित हो गया।

नई दिल्ली (जेएनएन)। यूं तो भारतीय राजनीति में आम सहमति का अभाव रहता है लेकिन बुधवार को राज्यसभा में एक ऐसा नजारा देखने को मिला जहां कुछ मतभेदों के बाद भी वामपंथी, कांग्रेस और भाजपा सहित तमाम दलों ने एकमत से जीएसटी के पक्ष में मतदान किया, हालांकि हर दल की अपनी चिंताएं भी थीं।

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने जीएसटी को लेकर अपनी चिंताओं और उसके समाधानों को रेखांकित किया, वहीं भाजपा के भूपेंद्र यादव ने कहा कि जीएसटी एकल कर व्यवस्था के साथ भारत में एक एकल बाजार स्थापित करने की दिशा में एक बड़ा कदम है। उन्होंने कहा कि जटिल कर ढांचे को सरल बनाने से सामाजिक और आर्थिक न्याय की राह आसान होगी।

वहीं तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन ने विधेयक का समर्थन करते हुए इस विधेयक के संबंध में कांग्रेस और बीजेपी दोनों के रुख पर चुटकी ली। उन्होंने कहा कि दोनों दलों ने जिस तरह से पिछले 10 वर्षों से जीएसटी को लेकर खेल किए हैं, उसके लिए उन्हें ओलिंपिक मेडल मिल सकता था। दोनों दलों के नेताओं की जीएसटी के संबंध में की गई टिप्पणियों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि लोगों का बयान इस बात पर निर्भर करता है कि वे सत्ता पक्ष में बैठे हैं अथवा विपक्ष में।

जनता दल यूनाईटेड नेता शरद यादव ने कहा कि हम जीएसटी के समर्थन में हैं। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार में सबसे बड़ी समस्या इतने तरह के टैक्स। कई ठिकाने बन जाते हैं तो भ्रष्टाचार बढ़ जाता है जीएसटी के आने से इसमें कमी आयेगी। हमारी पार्टी जीएसटी के पक्ष में शुरू से थी।

समाजवादी पार्टी के नेता नरेश अग्रवाल ने कहा कि उनकी पार्टी नहीं चाहते हुए भी जीएसटी बिल का समर्थन कर रही है, क्योंकि वे नहीं चाहते कि लोग उन्हें भारत के आर्थिक विकास की राह का रोड़ा समझें।

जीएसटी बिल पर चर्चा के दौरान सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा, क्या हम चाहते हैं कि केंद्र के पास राज्य भीख का कटोरा लेकर जाएं। देश का संघीय ढांचा खत्म नहीं होना चाहिए। हमारे संविधान की संप्रूभता लोग हैं।

बसपा के सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा, ‘वस्तु एवं सेवा कर को बड़ी शक्तियां दी गई हैं. इसमें कानून में बदलाव करने की राज्य की शक्तियां छीन ली गई हैं, जिससे लोग प्रभावित होंगे।’

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>