दस ट्रेड यूनियनों की ‘महा-हड़ताल’ आज, लोगों को हो सकती हैं मुश्किलें

Sep 02, 2016
दस ट्रेड यूनियनों की ‘महा-हड़ताल’ आज, लोगों को हो सकती हैं मुश्किलें
आज 10 केंद्रीय ट्रेड यूनियनों ने एक दिनी राष्ट्रव्यापी हड़ताल का आह्वान किया है, लिहाजा आज लोगों को परेशानी हो सकती है।

नई दिल्ली, प्रेट्र । आज लोगों को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। वजह यह है कि आज 10 केंद्रीय ट्रेड यूनियनों ने एक दिनी राष्ट्रव्यापी हड़ताल का आह्वान किया है। इसके चलते बैंकिंग, सार्वजनिक परिवहन और टेलीकॉम जैसी आवश्यक सुविधाएं प्रभावित हो सकती हैं। केंद्र सरकार ने सभी मंत्रालयों को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि वे तमाम सेवाएं पहुंचाने के लिए कारगर कदम उठाएं।

यूनियनों के मुताबिक, उनकी मांगों के प्रति सरकार की उदासीनता और श्रम कानून में श्रमिक विरोधी एकतरफा बदलावों के विरोध में यह हड़ताल बुलाई गई है। इस साल की हड़ताल पिछले साल की तुलना में बड़ी रहने वाली है। यूनियनों का दावा है कि इसमें 18 करोड़ कर्मचारियों के हिस्सा लेने की उम्मीद है, जबकि पिछले साल करीब 14 करोड़ कर्मी हड़ताल में शामिल हुए थे। ज्यादातर सरकारी बैंक यूनियनें भी हड़ताल में हिस्सा लेंगी। लिहाजा उनमें भी कामकाज नहीं होगा।

ये भी पढ़ें :-  2000 दलितों ने दी इस्लाम अपनाने की धमकी, नाले में फेंकी देवी-देवताओं की तस्वीर

कहां रहेगा असर

-बैंक, सरकारी दफ्तर और फैक्टि्रयां बंद रहेंगी

-कोल इंडिया, गेल, ओएनजीसी, एनटीपीसी और भेल जैसे केंद्रीय पीएसयू में कामकाज ठप्प रहेगा

-बिजली, परिवहन, खनन, रक्षा, टेलीकॉम और बीमा क्षेत्र होंगे प्रभावित

-दिल्ली, हैदराबाद और बेंगलुरु जैसे शहरों में कई ऑटो रिक्शा यूनियनों के शामिल होने से चरमराएंगी परिवहन सेवाएं -बंदरगाह व विमानन सेवाएं भी होंगी प्रभावित

-अस्पताल कर्मी हड़ताल का समर्थन करेंगे, लेकिन उनके सामान्य कामकाज पर असर नहीं पड़ेगा।

कहां नहीं पड़ेगा प्रभाव

-रेलवे कर्मचारी बंद में हिस्सा नहीं लेंगे यानी ट्रेनें यथावत चलेंगी

-स्कूल और कॉलेजों ने औपचारिक रूप से छुट्टी की घोषणा नहीं की है

ये भी पढ़ें :-  भाजपा की चपेट में पूरी तरह आ गए केजरीवाल, अरुण जेटली ने उनके खिलाफ खेली ये नाइ चाल

-दूध और पानी जैसी आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति होगी

-दवा की दुकानें खुलेंगी, इन्हें हड़ताल से बाहर रखा गया है

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>