सपा में मचे घमासान के बीच बोले सीएम-शिवपाल, नेताजी का हर फैसला मंजूर

Sep 14, 2016
सपा में मचे घमासान के बीच बोले सीएम-शिवपाल, नेताजी का हर फैसला मंजूर
सियासत में मुकाबला सिर्फ गैरों से ही नहीं होता है। बल्कि राजनीति की राह पर अपने भी गैरों की भूमिका में कभी कभी आ जाते हैं। यूपी की समाजवादी पार्टी इन दिनों आपसी कलह का सामना कर रही

नई दिल्ली। यूपी में समाजवादी पार्टी के अंदर खींचतान तेज हो गयी है। मंत्रीपद छिनने के बाद शिवपाल यादव ने कहा कि उन्हें नेताजी (मुलायम सिंह यादव) पर भरोसा है। नेताजी का जो भी आदेश होगा उसे वो स्वीकार करेंगे। शिवपाल यादव ने कहा कि मंत्रिमंडल में किसे रखना है और किसे बाहर करना है,ये सीएम का विशेषाधिकार है। इस मुद्दे पर उनके पास बोलने के लिए कुछ भी नहीं है। जहां तक बात इस्तीफे की है उस पर अटकल लगाने की जरूरत नहीं है।

अखिलेश यादव ने क्या कहा ?

जो भी फैसला लेना होगा वो नेताजी की सलाह पर लेंगे। वहीं मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार के अंदर विरोध हो सकता है। लेकिन परिवार के अंदर किसी तरह का विरोध नहीं है। उन्होंने कहा कि नेताजी जो कहते हैं उससे सभी लोग बंधे हुए हैं। वो जो कुछ कहेंगे हम उनकी बातों को अक्षरश: पालन करेंगे

शिवपाल-अखिलेश यादव में खींचतान

मंगलवार को एक बड़े उलटफेर में सीएम अखिलेश यादव ने शिवपाल यादव को उनके सभी पदों से हटा दिया था। चुनाव में पार्टी का चेहरा रहने वाले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के हाथ से संगठन की कमान लेकर शिवपाल यादव को सपा का प्रदेश अध्यक्ष बना दिया गया।

इसके जवाब में देर शाम मुख्यमंत्री ने मंत्री शिवपाल सिंह यादव से सभी महत्वपूर्ण विभाग ले लिए। इसको लेकर शिवपाल ने अपनी ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। लेकिन सपा के अति महत्वपूर्ण सूत्रों का कहना है कि वह अपमान को सहन नहीं करेंगे और मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे देंगे।

दो मंत्रियों की बर्खास्तगी से बढ़ गई बात

पार्टी में बदलाव की पटकथा सोमवार को उसी वक्त से लिखी जाने लगी थी, जब पार्टी मुखिया मुलायम सिंह यादव की सहमति के बगैर ही मुख्यमंत्री अखिलेश ने दो मंत्री बर्खास्त कर दिए थे। सोमवार की रात और फिर मंगलवार की शाम मुलायम, शिवपाल और अमर सिंह के बीच घंटों बैठक चली। इस दौरान शिवपाल यादव के पार्टी संगठन के अनुभवों का लाभ उठाने का फैसला किया गया।

पढ़ेंः

शिवपाल यादव को संगठन की दी गई कमान

विधानसभा के आगामी चुनाव को देखते हुए प्रदेश पार्टी संगठन की भूमिका बहुत अधिक बढ़ जाएगी। बताया गया कि मुख्यमंत्री अखिलेश जल्दी ही चुनावी रथयात्रा लेकर पूरे प्रदेश का दौरा करने वाले हैं। इस दौरान संगठन में शिवपाल की भूमिका का महत्व बढ़ जाएगा। इसके बाद फैसला लिया गया कि अखिलेश मुख्यमंत्री रहें। संगठन का कामकाज शिवपाल संभालेंगे। इसकी घोषणा पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव ने मंगलवार को एक पत्र जारी कर की।

दो ध्रुव बन जाने से चुनाव के दौरान बढ़ेगा टकराव !

बताते हैं कि अखिलेश से तनातनी कम करने के लिए पार्टी ने प्रदेश में संगठन की कमान शिवपाल को सौंपी है। लेकिन विधानसभा के आगामी चुनाव में पार्टी में दो ध्रुवों के बन जाने से टकराव भारी पड़ सकता है। सपा के भीतर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और शिवपाल यादव के बीच कई मुद्दों पर तकरार जग जाहिर होती रही है। पिछले दिनों दो मंत्रियों की बर्खास्तगी को लेकर शिवपाल ने सख्त नाराजगी जताई, जिसे मुलायम सिंह ने काफी गंभीरता से लिया और उन्हें दोबारा मंत्रिमंडल में शामिल किया गया। इसी तरह सोमवार को भी मुख्यमंत्री ने दो मंत्रियों को अपने मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया था और मंगलवार को वरिष्ठ आइएएस दीपक सिंघल को मुख्य सचिव के पद से हटा दिया। माना जा रहा है कि सिंघल शिवपाल यादव के खास थे।

पढ़ेंः

राहुल भटनागर नए मुख्य सचिव

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने दो मंत्रियों को बर्खास्त किये जाने के अगले ही दिन मंगलवार को मुख्य सचिव दीपक सिंघल को भी हटा दिया। वह इसी वर्ष सात जुलाई को मुख्य सचिव बनाये गये थे और महज सवा दो माह में ही उनकी छुट्टी कर दी गयी। सिंघल को मुख्य सचिव के साथ ही प्रमुख स्थानिक आयुक्त नई दिल्ली और अध्यक्ष पिकप, उत्तर प्रदेश के पद से भी हटाकर प्रतीक्षारत कर दिया गया है। सिंघल की जगह 1983 बैच के आइएएस राहुल भटनागर को मुख्य सचिव का दायित्व सौंपा गया है। भटनागर के पास पिकप और प्रमुख सचिव स्थानिक आयुक्त का भी दायित्व रहेगा।

शिवपाल से छीने गए विभाग

-सार्वजनिक निर्माण
-सिंचाई विभाग
-राजस्व
बाकी बचा विभाग
-समाज कल्याण

पढ़ेंः

शिवपाल की मान-मनौव्वल तेज, पत्नी अौर बेटा सैफई पहुंचे

कई अहम मंत्रालय से हटाए जाने से खफा कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव को मनाने के लिए उनके बेटे पीसीएफ चैयरमैन आदित्य यादव, शिवपाल यादव की पत्नी सरला यादव लखनऊ से सैफई पहुंचे। सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव की पहल पर शिवपाल की पत्नी अौर बेटे सैफई रवाना हुए।

पढ़ेंः

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>