स्थानीय निकाय चुनाव से पहले जयललिता सरकार की सीधे मेयर चुनाव की योजना

Jun 23, 2016
स्थानीय निकाय चुनाव से ठीक करीब चार महीने पहले तमिलनाडु की जयललिता सरकार ने तमिलनाडु म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन लॉ संसोधित बिल पेश किया है।

चेन्नई। तमिलनाडु में स्थानीय निकाय के चुनाव में होने में महज चार महीने ही बचे हैं लेकिन तमिलनाडु सरकार ने निकाय कानून में बुधवार को सुधार का प्रस्ताव किया है ताकि ये सुनिश्चित किया जा सके कि मेयर का चुनाव पार्षद करे ना कि आम जनता जैसा कि अब तक होता आ रहा है।

विधानसभा में तमिलनाडु म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन लॉ (अमेंडमेंट एक्ट) 2016 में संशोधन बिल पेश करते हुए स्थानीय निकाय एवं ग्रामीण विकास मंत्री एस.पी. वेलुमणि ने कहा कि अगर ऐसा होता है तो इससे बेहतर काम होगा क्योंकि उस मेयर को पार्षद का समर्थन होगा।

ये भी पढ़ें :-  सपा-कांग्रेस में गठबंधन का ऐलान हो सकता है कभी भी, शीला सीएम पद छोड़ने को तैयार

वेलुमणि ने कहा कि स्थानीय निकाय फिलहाल पार्षद के पर्यापत सहयोग नहीं मिलने की चलते ठीक से काम नहीं कर रहा है। इसलिए,सरकार ने यह फैसला किया है कि मेयर का चुनाव अप्रत्यक्ष तौर पर हो जिसका चुनाव पार्षद ही करें।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected