नजीब की माँ ने कहा, मामले में राजनीति नहीं, मेरा बेटा वापिस चाहिए

Oct 28, 2016
नजीब की माँ ने कहा, मामले में राजनीति नहीं, मेरा बेटा वापिस चाहिए

13 दिन से लापता जेएनयू छात्र नजीब अहमद के न मिलने पर उसके परिजनों व जेएनयूछात्र संघ ने जेएनयू प्रशासन और दिल्ली पुलिस पर सीधा हमला किया है। नजीब की बहन सजफ मुशर्रफ ने कहा कि वह मामले में राजनीति नहीं बल्कि नजीब की वापसी चाहती हैं। हमने नजीब को यहां पढ़ने के लिए भेजा था, वह ऐसा लडका नहीं है जो मारपीट करेगा।

नजीब की गुमशुदगी मामले में प्रेसक्लब में आयोजित प्रेसवार्ता में नजीब की मां फातिमा नफीम ने कहा कि मेरा बेटा 13 दिन से गायब है। उसका अपहरण किया गया है। फातिमा बात करते-करते सिसक पड़ी। सजफ ने कहा, ‘मैंने जेएनयू में एबीवीपी के नेता सौरभ कुमार शर्मा से भी बातचीत की और कहा कि मुझे उन छात्रों से मिलवा दो, जिन्होंने नजीब के साथ मारपीट की थी लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया।’ जेएनयू प्रशासन पर सवाल उठाते हुए कहा कि नजीब उनका छात्र है, लेकिन मुलाकात करने के बावजूद प्रशासन ने कोई पहल नहीं की। आज प्रेसवार्ता से पहले कुलपति का फोन आया था कि वह मिलना चाहते हैं। जेएनयू प्रशासन ने उन छात्रों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की, जिन्होंने नजीब के साथ मारपीट की। माही मांडवी के छात्र और घटना के प्रत्यक्षदर्शी छात्र शाहिद रजा ने पूरा विवरण बताया और एबीवीपी तथा जेएनयू प्रशासन पर सवाल खड़े किए। उसने विक्रांत, अंकित और सुनील का नाम लेकर बताया कि ये लोग घटना में शामिल थे।

शाहिद रजा ने बताया की अंकित ने वॉशरूम में नजीब के साथ मारपीट कर रहा था। जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष मोहित पांडेय ने कहा कि नजीब से मारपीट में बाहरी छात्र भी शामिल थे पुलिस उन पर कार्रवाई क्यों नहीं कर रही है। नजीब के परिजन और जेएनयूएसयू के पदाधिकारियों की प्रेसवार्ता के बाद जेएनयू के रेक्टर एक प्रो. चिंतामणि महापात्र ने ट्वीट कर कहा कि 18 अक्टूबर को नजीब के परिजन से मुलाकात हुई थी और बृहस्पतिवार को भी हम उनसे संपर्क करने की कोशिश की थी। जेएनयू प्रशासन नजीब को खोजने के लिए पूरी कोशिश कर रहा है।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>