नाबालिक लड़की और तीन लड़के, उसके बाद लड़की की चीख बंद ही नहीं हुई

Apr 05, 2017
नाबालिक लड़की और तीन लड़के, उसके बाद लड़की की चीख बंद ही नहीं हुई

उत्त्तर प्रदेश। सामने आया लाचार लड़की का दिल दहलादेने वाला सनसनीखेज मामला इलाहाबाद के धूमनगंज थाना क्षेत्र में एक दलित किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म किया गया। पीड़िता किशोरी के बयान और ग्रामीणों की पहचान के आधार पर पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। ये शर्मनाक घटना रविवार रात मंदरमोड़ इलाके में रेलवे लाइन के निकट हुई।

जब लड़की ने उन दिनों लड़को के सवाल-जवाब का विरोध किया तो युवक मुंह दबाकर बदरेआलमपुर गांव के करीब एक खेत में उठा ले गए जहां उन दिनों दरिंदों ने युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। किशोरी जब अचेतावस्था में आ गई तो युवक उसे छोड़कर भाग निकले। सोमवार की सुबह किशोरी किसी तरह वहां से निकली और दूसरे गांव पहुंच गई। तभी रास्ते में एक युवक मिल गया और पूछताछ करने लगा। यह भी आरोप है कि उसी दौरान बाइक सवार तीन युवक फिर आए और कहा कि किशोरी आत्महत्या करने जा रही है। लिहाजा वह अपने साथ ले जाएंगे। इस पर किशोरी ने शोर- शोर मचाया तो ग्रामीण जुट गए और युवकों को पहचान लिया। खबर मिलने पर पुलिस के साथ ही पीड़िता के रिश्तेदार भी पहुंच गए। पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर बम्हरौली निवासी नितिन, इब्राहिम और सैफी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की। मंगलवार की सुबह तीनो को गिरफ्तार कर लिया।

इस घटना पर सीओ सिविल लाइंस का कहना है कि सामूहिक दुष्कर्म, पास्को और एससीएसटी एक्ट की धाराओं में एफआइआर लिखकर आरोपियों को पकड़ लिया गया है। आपको बता दें कि 17 वर्षीय किशोरी कौशांबी जिले के सरायअकिल थाना क्षेत्र स्थित एक गांव की रहने वाली है। उसके पिता की मौत हो चुकी है। किशोरी के फूफा धूमनगंज के भोला का पुरवा मोहल्ले में रहते हैं। रविवार की शाम वह अपने फूफा के घर आ रही थी। मंदर मोड़ के करीब रेलवे लाइन के पास वह टेंपो से उतर गई। इसके बाद ट्रांसफार्मर के पास खड़ी थी। तब तक रात के करीब आठ बज चुके थे। किशोरी का आरोप है कि इसी दौरान एक बाइक से तीन लड़के आए और पूछताछ करने लग गए।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>