म्यांमार: दो मुस्लिम गाँव बौद्द जनता ने की नाकेबंदी

Aug 03, 2016

अराकान-म्यांमार में शांति का प्रतीक माने जाने वाले बौद्द धर्म की शिक्षाओं को दरकिनार करके एक बार फिर बौद्द चरमपंथी संघटनो ने अराकान राज्य के दो मुस्लिम गाँव की नाकेबंदी कर दी है

ये दोनों गाँव राज्य के पूर्वी हिस्से के रसिदोंग जिले में है जहाँ पर नाकेबंदी से मुस्लिम अवाम के लियें खाने पीने का साजो सामान भी नही है ताज़ा हालात इतने खराब है कि नाकेबंदी की शिकार रोहिंग्या समुदाय भूखमरी की कगार पे पहुँच गया है

नाकेबंदी के शिकार रोहिंग्या मुस्लिमो ने सरकार से गुज़ारिश की है कि उनकी इंसानी मदद की जाये वही म्यांमार सरकार ने इस मामले पे अभी तक कोई प्रतिक्रिया नही दी है

कौन है रोहिंग्या मुस्लिम

म्यांमार में करीब 8 लाख रोहिंग्या मुस्लिम रहते हैं और वे इस देश में सदियों से रहते आए हैं, लेकिन म्यामार के लोग और वहां की सरकार इन लोगों को अपना नागरिक नहीं मानती है।

बिना किसी देश के इन रोहिंग्या लोगों को म्यांमार में भीषण दमन का सामना करना पड़ता है। बड़ी संख्या में रोहिंग्या लोग बांग्लादेश और थाईलैंड की सीमा पर स्थित शरणार्थी शिविरों में अमानवीय स्थितियों में रहने को विवश हैं

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>