मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसा: ससपेंड हुए 8 कर्मचारी

Aug 21, 2017
मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसा: ससपेंड हुए 8 कर्मचारी

मुजफ्फरनगर में खतौली रेल हादसा एक बड़ी लापरवाही की वजह से हुई है। इस मामले में रेलवे के विभिन्न विभागों के बीच आरोप-प्रत्यारोप भी शुरू हो गया है। लेकिन रिपोर्ट्स के अनुसार उत्कल एक्सप्रेस के हादसे पर रेलवे की जो इंटरनल इंक्वायरी रिपोर्ट आई है उसमें परमानेंट वे (p-way) डिपार्टमेंट को दोषी पाया गया है।

बता दें कि मुजफ्फरनगर में हुए ट्रेन हादसे के लिए दोषी मानते हुए तीन कर्म‍चारियों को निलंबित कर दिया है। इनके अलावा कई अध‍िकारियों एवं कर्मचारियों पर कार्रवाई की गई है। इस हादसे में रेलवे के कई कर्मचारियों, अधि‍कारियों पर गाज गिरी है। जूनियर इंजीनियर, सीनियर सेक्शन इंजीनियर, असिस्टेंट इंजीनियर, सीनियर डिवीजन इंजीनियर को सस्पेंड कर दिया गया है। तो दूसरी तरफ उत्तर रेलवे के चीफ ट्रक इंजीनियर का तबादला कर दिया गया है। जबकि डीआरएम दिल्ली, GM उत्तर रेलवे और रेलवे बोर्ड के मेंबर इंजीनियरिंग को छुट्टी पर भेज दिया गया है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ‘उत्कल एक्सप्रेस’ के 14 डिब्बे पटरी से उतर गए थे। रिपोर्ट्स के मुताबिक रेलवे ने आज माना कि रेलवे ट्रैक पर मरम्मत का काम चल रहा था। जहाँ इस ट्रेन हादसे में 20 लोगों की जान चली गई है, जबकि 22 गंभीर रुप से घायल हैं। कुल घायलों की संख्या 92 है जिनका इलाज मुजफ्फरनगर, मेरठ और हरिद्वार के हॉस्पिटल में चल रहा है। रेलवे बोर्ड के सदस्य एम जमशेद के बयान के मुताबिक, ‘’ट्रैक पर जो भी काम चल रहा था, उसकी जांच की जा रही है। इस मामले में जीआरपी ने भी एफआईआर दर्ज कर ली है।’’ उन्होंने कहा कि, ‘’इस मामले में जो भी दोषी हैं उनपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।’’

ये भी पढ़ें :-  लालू का CM नीतीश पर बड़ा हमला, बताया गोडसे व हिटलर का सबसे बड़ा पुजारी
लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>