मुस्लिम महिलाएं मौलवियो को थप्पड़ मरकर हिन्दू धर्म में शामिल हो जाएं, और फिर तलाक़..

Apr 30, 2017
मुस्लिम महिलाएं मौलवियो को थप्पड़ मरकर हिन्दू धर्म में शामिल हो जाएं, और फिर तलाक़..

अक्सर मुस्लिमो के खिलाफ विवादित बयान देकर चर्चाओं में रहने वाली विश्व हिन्दू परिषद् की फायर ब्रांड नेता साध्वी प्राची ने बाबा अलखनाथ मंदिर में जलाभिषेक किया। इस दौरान साध्वी प्राची ने मीडिया से बात चीत भी की लेकिन उन्होंने बातों बातों पर तीन तलाक़ के मुद्दे पर एक बड़ा विवादित बयान दे दिया। साध्वी प्राची ने कहा की मुस्लिम महिलाओ को मौलवियो के थप्पड़ मरकर हिन्दू धर्म में शामिल हो जाना चाहिये। तलाक़ की समस्या हमेशा के लिए खत्म हो जाएगी। साथ ही साध्वी प्राची ने सुप्रीम कोर्ट के उस फैसले पर निशाना साधा जिसमे कहा गया है की आडवाणी , जोशी और उमा भर्ती पर केस चलेगा, उन्होंने कहा की जिन लोगो ने राम भक्तो पर गोलिया चलवाई उन पर केश क्यों नहीं चल रहा।

साध्वी प्राची ने कहा कि हर कीमत पर बनेगा राम मंदिर, संसार की कोई ताकत नही रोक सकती , बाबर के नाम की मस्जिद हिंदुस्तान के किसी कोने में बर्दाश्त नही की जाएगी ,बाबर लुटेरा था अत्याचारी अन्याई था। वही साध्वी ने तल्खी भरी आवाज में कहा कि अयोध्या मामले मे आडवाणी उमा भारती जोशी पर तो मुकदमा चलेगा लेकिन जिन्होंने राम भक्तो पर गोलियां चलाई उन पर मुकदमा क्यों नही चल रहा । बड़ी संख्या मे लोगो को मौत के घाट उतारा उनको भी जेल भेजना चाहिए और सुप्रीम कोर्ट मे मुकदमा चलना चाहिए।

साध्वी ने तीन तलाक के मुद्दे पर कहा की देश मे छोटे छोटे मुद्दों पर तूल दिया जाता है…बच्चा बिस्तर पर पेशाब कर दे, बाजार में देर हो जाये , सब्जी में नामक ज्यादा हो जाये तो तलाक़ दे दिया जाता है …… तीन तलाक से परेशान महिलाये ऐसे धर्म को छोड़ कर महिलाये मौलवियों को तमाचा मार कर हिन्दू धर्म मे शामिल हो जाये । तलाक की समस्या जीवन भर खत्म हो जायेगी ।

आजम की सुरक्षा पर साध्वी ने निशाना साधते हुए कहा कि आजम खां को सुरक्षा को लेकर कोई खतरा नही है उनको अपने काले कारनामो से खतरा है ।इसी लिए वह डरे हुए है जो काले कारनामे पांच साल में किये है कही वह जानता में उजागर न हो जाये । साध्वी ने यह भी कहा कि आजम खां की जौहर यूनिवर्सिटी की जांच होगी आजम खां को जेल भेजा जाएगा ।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>