मुस्लिम गौपालन नहीं करता, यह भ्रम रखने वाले मिले अब्दुर्रज्जाक खान से

Nov 08, 2016
मुस्लिम गौपालन नहीं करता, यह भ्रम रखने वाले मिले अब्दुर्रज्जाक खान से

मध्य प्रदेश के मुफ्ती-ए-आजम अब्दुर्रज्जाक खान कुछ ऐसे ही मुसलमानों में से हैं जो 1984 से गौपालन कर रहे हैं। अब्दुर्रज्जाक भोपाल से लगभग 20 किलोमीटर दूर इंदौर हाई-वे के पास तूमड़ा गांव के रहने वाले हैं। आज भी इनकी गौशाला में आठ गायें हैं। यह उदाहरण उन लोगों के लिए है जो गाय को हिंदु या मुसलमान की नज़र से देखते है। मुफ्ती-ए-आजम अब्दुर्रज्जाक खान जैसे लोगों के लिए गाय न हिंदु है न मुसलमान। उनके लिए गाय बस गाय है जो उनको पौषटिक आहार देती है। वो गायों की सेवा करते है और गाय उनको दूध और दही देती है। देखें उनके जानवरो के बाड़े की एक तस्वीर

bljsrmoeap-1478029955

यहीं एक बड़ी-सी दारुल उलूम हुसैनिया मस्जिद है। यह मस्जिद मुफ्ती अब्दुर्रज्जाक की 60 एकड़ निजी जमीन पर बनी है। मस्जिद कोई 24,000 वर्गफीट रकबे में बनी है। इसी मस्जिद के पास दुधारू जानवरों का एक बाड़ा है। इस बाड़े में तकरीबन 20-25 बकरियां, चार से पांच भैसें और करीबन सात-आठ गाये हैं। यहां गायों और दूसरे जानवरों का पालने का दस्तूर लगभग तीन दशकों से रहा है। गाय यहां की सबसे पूरानी रहवासी हैं।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>