मोदी को पहले अपने विवाहित पत्नी जशोदाबेन को न्याय देना चाहिए: सलमान निज़ामी

Aug 23, 2017
मोदी को पहले अपने विवाहित पत्नी जशोदाबेन को न्याय देना चाहिए: सलमान निज़ामी

तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले का सभी ने स्वागत किया है। पीएम मोदी ने इस मामले को एतिहासिक कदम बताया है। इस मामल पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान निज़ामी ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है उन्होंने कहा कि, मोदी को पहले अपने विवाहित पत्नी जशोदाबेन को न्याय देना चाहिए।

सलमान निज़ामी ने बीजेपी पर आरोप लगाया है कि, महिला सशक्तिकरण के बारे में बीजेपी की नीतियां कुछ और नहीं बल्कि पाखंड है। सुप्रीम कोर्ट का आदेश ट्रिपल तलाक पर मुस्लिम महिलाओं की जीत है, जिन्होंने लड़ाई लड़ी। इस मामले में सरकार ने कोई मामला तक दर्ज नहीं किया है इसका पूरा श्रेय उन महिलाओं को जाता है जिन्होंने ये पूरी लड़ाई लड़ी है।

ये भी पढ़ें :-  दलित छात्र से कुत्तों की मालिश और शौचालय साफ करवाते थे स्कूल अधिकारी

उन्होंने कहा कि, अब हिंदू महिलाओं को आगे आना चाहिए और दहेज और बाल विवाह जैसी बुराइयों से लड़ना चाहिए। इसके अलावा जिनके पास अपने पति के द्वारा छोड़ दिया गया है। बीजेपी के सहयोगियों ने अन्य धर्मों से लोगों के लिए घर की शुरुआत की थी, लेकिन नरेंद्र मोदी अपनी पत्नी के साथ न्याय करने में नाकाम रहे हैं जो एक दुखी जीवन जी रही हैं। केंद्र सरकार महिलाओं के अधिकारों के लिए लड़ने, बेटी बचाव-बेटी पढ़ाओ जैसे पहल की शुरूआत करते हुए महिला सशक्तिकरण का दावा करती है, लेकिन ऐसे सभी कार्यक्रम केवल ढोंग हैं। पीएम मोदी की पत्नी अभी भी ऑटो रिक्शा से यात्रा करती है और एक विनम्र जीवन जीती है। मोदी को पहली बार अपनी पत्नी को घर लाने चाहिए। “

ये भी पढ़ें :-  पिता के बाद 14 साल के बेटे ने भी की ख़ुदकुशी, फीस के लिए टीचर करते थे परेशान
लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>