मोदी के कालेधन पर मास्टर स्ट्रोक से बढ़ी केजरीवाल की चिंता, कालाधन सफ़ेद करने की कोशिश में जुटे

Nov 09, 2016
मोदी के कालेधन पर मास्टर स्ट्रोक से बढ़ी केजरीवाल की चिंता, कालाधन सफ़ेद करने की कोशिश में जुटे

साल 2017 में आने वाले विधानसभा चुनावों में पंजाब में सत्त्ता में आने का सपना देख रही आम आदमी पार्टी के लिए मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। जब से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा मंगलवार की मध्य रात्रि से 1000 और 500 के नोट को बंद करने की घोषणा के बाद से सुनने में आ रहा है की दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने पार्टी के नाम पर विदेशों से चंदे के रूप में जो ब्लैक मनी इक्कठी की है उसे लेकर खासा परेशान है। और इसे वाइट मनी बनाने के लिए विचार- विमर्श कर रहे है।

केंद्र सरकार के इस फैसले से केजरीवाल मीडिया के सवालों से बचने के लिए इधर-उधर भाग रहे है। असल में केंद्र सरकार द्वारा लिया गया कोई भी फैसले पर केजरीवाल अपनी प्रतिक्रिया देने से कभी पीछे नहीं हटे लेकिन इस बार मामला कुछ अलग है।

सूत्रों के अनुसार, आम आदमी पार्टी ने पंजाब चुनाव लड़ने के लिए जो कनाडा, अमेरिका और यूरोप से बड़ी संख्या में पैसे जुटाए है। वो हवाले के जरिये लाये जा रहे हैं। केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद से केजरीवाल एक मीटिंग करेंगे। जिसमे तय होगा की किस तरीके से ब्लैक मनी को वाइट मनी में बदले।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>