मोदी से नहीं बची कोई उम्मीद तो किसानों ने जमीन बचाने के लिए चीन के प्रधानमंत्री को लिखा खत

Jan 14, 2017
मोदी से नहीं बची कोई उम्मीद तो किसानों ने जमीन बचाने के लिए चीन के प्रधानमंत्री को लिखा खत

हरियाणा में भाजपा की सरकार है। लेकिन खरखोदा के किसानों ने अपनी जमीन बचाने के लिए चीन के प्रधानमंत्री ली केक्विआंग को खत लिखा हैं। दरअसल, हरियाणा सरकार ने खरखोदा में 10 बिलियन डॉलर की इंडस्ट्रियल टाउनशिप बनाने के लिए जमीन अधिग्रहण की हैं. लेकिन किसान इस अधिग्रहण के खिलाफ हैं। किसान अधिग्रहण के खिलाफ अधिक मुआवजे की मांग कर रहे हैं। साथ ही डिवेलप्ड प्लॉट पर दूसरी सुविधाएं भी चाहते हैं। अधिग्रहण का विरोध करने वाली कुंदाल की भूमि बचाओ संघर्ष समिति ने कहा है कि किसानों ने हरियाणा सरकार को जमीन नहीं दिया है। समिति का कहना है कि किसान अपनी अंतिम सांस तक जमीन नहीं देंगे। प्रधानमंत्री ली केक्विआंग को लिखे ख़त में कुंदाल की समिति ने लिखा है कि वे वांडा ग्रुप ऑफ चाइन हेतु जमीन अधिग्रहण के मामले में दखल दे। दरअसल जनवरी 2015 में हरियाणा स्टेट इंडस्ट्रियल ऐंड इंफ्रास्ट्रकचर डिवेलपमेंट कॉर्पोरेशन (HSIIDC) ने खरखोदा में वांडा इंडस्ट्रियल न्यू सिटी बनाने के लिए एमओयू पर साइन किया था।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>