‘मोदी एक दंगे में दुश्मन, 457 दंगों के बाद भी मुल्ला मुलायम मुसलमानों के मसीहा’

Apr 19, 2016

राष्ट्रीय उलेमा कौंसिल के चेयरमैन मौलाना आमिर रशादी मदनी ने सपा सरकार पर जमकार निशाना साधा है। उन्होंने सीएम अखिलेश और मुलायम पर आरोप लगाते हुए कहा कि दोनों मुस्लिमों को सिर्फ अपना वोट बैंक समझते हैं। गुजरात में एक दंगा कराने के बाद मोदी मुसलमानों के दुश्मन बन गए। वहीं, मुलायम और उनके शाहबजादे (अखिलेश) के राज में 457 बड़े दंगे हुए फिर भी मुल्ला मुलायम मुस्लिमों के मसीहा बने हुए है।

उन्होंने राजनीतिक पार्टियों पर भी जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि नेता ने सेकुलरिज्म और कम्युनलिज्म के नाम पर सिर्फ मुसलामानों को ठगा है। कई पार्टियां भाजपा के नाम पर मुसलमानों को डरा रही हैं और वोट बैंक की तरह इस्तेमाल कर रही हैं। ये सिलसिला बीते कई सालों से चल रहा है।

रशादी ने आरोप लगाते हुए कहा कि ऐसे लोग मुसलमानों के सच्चे हमदर्द नहीं हैं। वे सिर्फ उनका इस्तेमाल अपने राजनीतिक फायदे के लिए कर रहे हैं, लेकिन मुसलमान इनका वोट बैंक नहीं बनेगा। उन्होंने नारा देते हुए कहा कि, ‘अब मुसलमान नहीं रहेगा दरबार में, वह रहेगा अब सरकार में।

हिंदू-मुस्लिम एकता का नारा नहीं मुस्लिम-हिंदू एकता का नारा चलेगा
उन्होंने कहा कि अब हिंदू-मुस्लिम एकता का नारा नहीं मुस्लिम-हिंदू एकता का नारा चलेगा। यदि मुसलमान, ब्राह्मण, भूमिहार और राजपूत एक हो जाए तो उसे कोई नहीं हरा सकता। यह ऐसा वोट बैंक होगा जो यादवों पर बहुत भारी पड़ेगा।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>