डोपिंग से जुड़ी लीक रिपोर्ट से नाराज हैं मो फाराह

Feb 27, 2017
डोपिंग से जुड़ी लीक रिपोर्ट से नाराज हैं मो फाराह

इंग्लैंड के लंबी दूरी के धुरंधर धावक मो फाराह ने अपने कोच पर लगे डोपिंग के आरोपों से संबंधित खबरें लीक होने पर नाराजगी जाहिर की है। पिछले दो ओलम्पिक (लंदन ओलम्पिक और रियो ओलम्पिक) में 5,000 और 10,000 मीटर स्पर्धा का स्वर्ण जीतने वाले फाराह ने खुद को निर्दोष और स्वच्छ खिलाड़ी बताया है और कहा है कि ऐसे मामलों में कार्रवाई होनी चाहिए न कि जानकारी मीडिया को लीक की जानी चाहिए।

गौरतलब है कि फाराह के कोच अमेरिका के एल्बटरे सालाजार पर अपने कुछ खिलाड़ियों के प्रदर्शन में सुधार के लिए डोपिंग रोधी नियमों का उल्लंघन करने का आरोप लगा है। समाचार पत्र ‘संडे टाइम्स’ ने मार्च, 2016 की अमेरिकी डोपिंग रोधी एजेंसी (यूसाडा) की एक रिपोर्ट के हवाले से इसका खुलासा किया है।

बीबीसी ने फाराह के हवाले से कहा, “अगर यूसाडा या किसी अन्य डोपिंग रोधी एजेंसी के पास इस तरह का कोई सबूत मिला है तो उसे सार्वजनिक किया जाना चाहिए और कार्रवाई होनी चाहिए, न कि उसे मीडिया को सौंप देना चाहिए, जहां आरोप और दोष तय किए जाएं।”

बीबीसी के पैनोरमा प्रोग्राम में सालाजार के अमेरिका स्थित प्रशिक्षण केंद्र पर खिलाड़ियों द्वारा प्रतिबंधित पदार्थो के सेवन का आरोप लगा, जिसके बाद से सालाजार जांच के घेरे में हैं।

संडे टाइम्स ने लीक रिपोर्ट के हवाले से कहा है कि नाइके ओरेगॉन प्रोजेक्ट (एनओपी) के मुख्य कोच सालाजार फाराह और अपने अन्य एथलीटों को नियमित तौर पर विधिक तौर पर प्रेसक्राइब्ड दवाएं देते रहे हैं, जबकि उसके पीछे यथोचित चिकित्सा कारण भी नहीं थे।

फाराह ने कहा है, “यह बहुत ही निराशाजनक है कि मुझे इस विषय पर बयान देना पड़ रहा है। मैं एक साफ-सुथरा एथलीट हूं और मैंने कभी भी प्रतिबंधित पदार्थो के सेवन, अन्य विधियों या पदार्थो की मात्रा के संबंध में नियमों का उल्लंघन नहीं किया है। यह व्यथित करने वाला है कि मीडिया का एक हिस्सा बिन किसी तथ्य के प्रतिबंधित पदार्थो के दुरुपयोग में मेरा नाम घसीट रहा है।”

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>