लड़की की तबियत बिगड़ी तो पता चला कि, पांच दिन पहले उसके साथ.. बीजेपी नेता ने

Mar 07, 2017
लड़की की तबियत बिगड़ी तो पता चला कि, पांच दिन पहले उसके साथ.. बीजेपी नेता ने

छत्तीसगढ़। बालोद जिले के अर्जुन्दा थाना क्षेत्र के एक गांव से सामने आया नाबालिग के साथ दुष्कर्म का मामला। बताया जा रहा है कि भाजपा नेता के भाई व एक नेता के भतीजा ने 13 साल की नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया है। मामले में पीड़िता लड़की ने बताया कि दुष्कर्म के बाद आरोपियों ने उसे जान से मारने की धमकी भी दी।

इस घटना के पांच दिनों बाद पीड़िता ने थाने में शिकायत दर्ज कराई। इस पुरे मामले में पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ धारा 376 अनाचार, धारा 363 अपहरण, धारा 342 भय दिखाना, धारा 34 एक से अधिक, धारा 506 धमकाना एवं पाक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। लेकिन फ़िलहाल दोनों आरोपी फरार हैं।

पुलिस के बताया कि यह घटना एक मार्च की बताई जा रही है लेकिन दोनों आरोपियों द्वारा पीड़िता को जान से मारने की धमकी दिए जाने के कारण 5 दिनों तक किसी तरह की रिपोर्ट नहीं लिखाई थी। पीड़िता के चाचा द्वारा मोहल्ले के लोगों द्वारा इस घटना के बारे में सुने जाने के बाद बीती रात को पीड़िता से पूछताछ की। रोते हुए पीड़िता ने सारी बात बताई। सोमवार की सुबह 10:30 बजे अर्जुंदा थाने में परिजनों के साथ पहुंची नाबालिग ने दोनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया। इधर मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी दीपक कुमार झा ने जांच का जिम्मा क्राइम ब्रांच को भी सौंपा है।

अर्जुंदा पुलिस टीम के साथ अब क्राइम ब्रांच में भी दोनों आरोपियों की खोजबीन कर रही है। मुख्य आरोपी गोपी निर्मलकर एक भाजपा समर्थित पार्षद का देवर व नेता का भाई है वहीं दूसरा आरोपी भी भाजपा के ही एक नेता का भतीजा है दोनों आरोपियों के खिलाफ अर्जुंदा थाने में मामला दर्ज कर आगे की कार्यवाही की जा रही है।

इस तरह घटी ये घटना, कैसे किया गया दुष्कर्म
मिली जानकारी के अनुसार कक्षा सातवीं में पढ़ने वाली पीड़िता 1 मार्च को सुबह अपनी सहेली के घर से लौट रही थी। इस दौरान प्रमुख आरोपी गोपी निर्मलकर उसके पीछे आया पीड़िता नहीं रुकी तो गोपी ने जबरदस्ती करते हुए पीड़िता का हाथ पकड़ कर उसे गाड़ी में बैठाने का प्रयास किया। पीड़िता कूदकर भागने लगी इसके बाद आरोपी ने अपने साथी राजेश यादव को फोन करके बुलाया नाली पार के पास दोनों आरोपियों ने पीड़िता को घेर लिया और उसे उठाकर एक झोपड़ी नुमा मकान में ले गए जहां मुख्य आरोपी गोपी निर्मलकर ने दुष्कर्म किया। वहीं सहयोगी आरोपी राजेश यादव बाहर निगरानी करता रहा।

दुष्कर्म के बाद आरोपियों ने पीड़िता को जाने मारने की बात कहते हुए डरा धमका कर घर जाने के लिए छोड़ दिया घटना के बाद से डरी सहमी लड़की घर में चुपचाप रहने लगी। इस बीच उसकी तबीयत भी खराब हो गई 2 दिन से खाना भी नहीं खा रही थी।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>