महबूबा’ को हर हाल में बोलना चाहिए था ‘भारत माता की जय’ : संजय राउत

Apr 06, 2016

नयी दिल्ली : जम्मू कश्मीर की राजधानी श्रीनगर के एनआईटी कैंपस में छात्रों पर पुलिस के लाठीचार्ज का मामला राजनीतिक रुप लेता जा रहा है. इस मामले में आम आदमी पार्टी के बाद शिवसेना भी कूद पड़ी है. शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि यदि सूबे की मुख्यमंत्री राष्ट्रवादी होती तो ऐसी घटना वहां नहीं होती. जम्मू-कश्‍मीर की मुख्‍यमंत्री महबूबा मुफ्ती को शपथ ग्रहण करने के बाद भारत माता की जय नारा लगाना चाहिए. यदि ऐसा उनके द्वारा किया जाता तो राज्य में अच्छा संदेश जाता.

वहीं श्रीनगर की घटना का जायजा लेने मानव संसाधन विकास :एचआरडी: मंत्रालय एनआईटी श्रीनगर परिसर में आज दो सदस्यीय एक दल भेज रहा है जहां पिछले सप्ताह टी20 विश्व कप में वेस्टइंडीज के खिलाफ भारतीय क्रिकेट टीम की हार के बाद से छात्रों के बीच तनाव की स्थिति पैदा हो गई है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘मंत्रालय ने एक निदेशक और उप सचिव रैंक के एक अधिकारी वाले दो सदस्यीय दल को भेजने का निर्णय लिया है, जो वहां जाकर छात्रों की बात सुनेगा.’ परिसर में पिछले सप्ताह हुई झडप के बाद कल फिर से तनावपूर्ण स्थिति पैदा हो गई थी। कश्मीर से बाहर के छात्रों ने असुरक्षा महसूस होने की बात कही और परिसर से जाने की कोशिश की जिसके बाद उनकी पुलिस के साथ मुठभेड हुई और पुलिस के लाठीचार्ज में कुछ छात्र घायल हो गए.

स्थिति के तनावपूर्ण हो जाने के मद्देनजर कल रात परिसर में सीआरपीएफ के जवान तैनात किए गए और जम्मू-कश्मीर सरकार ने यहां पढ रहे बाहरी राज्यों के छात्रों को पूरी सुरक्षा मुहैया कराने का भरोसा दिलाया. केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से भी बात की और उनसे एनआईटी में हालात पर चर्चा की. टी-20 विश्व कप टूर्नामेंट के सेमीफाइनल मुकाबले में भारत की हार के बाद गत शुक्रवार को परिसर में स्थानीय एवं बाहरी राज्यों के छात्रों के बीच झडपें हुई थीं.

इसके बाद एनआईटी प्राधिकारियों ने संस्थान को बंद कर दिया था जिसे कल फिर से खोला गया. उप मुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने कल कहा था, ‘‘हम एनआईटी में पढ रहे देश के सभी छात्रों की जिम्मेदारी लेते हैं. हमने सभी आवश्यक प्रबंध कर लिए हैं.’ सिंह ने कहा कि इस मामले को सुलझाने के लिए प्रशासन ने एनआईटी के छात्रों के साथ बैठक की है. शांति सुनिश्चित करने के लिए एसएसपी श्रीनगर इलाके में ही हैं. उन्होंने कहा कि बाहरी राज्यों के छात्र परीक्षाएं स्थगित करने और सुरक्षा मुहैया कराए जाने की मांग कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘‘एनआईटी के निदेशक ने कहा है कि मांगें स्वीकार कर ली गई हैं.’

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>