मक्का, 170 आज़मीन तवाफ़ के दौरान बेहोश

Sep 05, 2016
मक्का, 170 आज़मीन तवाफ़ के दौरान बेहोश

मक्का मुअज़्ज़मा में सालाना फ़रीज़ा हज की अदायगी के लिए लाखों मुसलमानों की आमद का सिलसिला जारी है। हर्म शरीफ़ में बढ़ते हुजूम और गर्मी की शिद्दत से तवाफ़ के दौरान अब तक 170 आज़मीन बेहोश हो कर गिर पड़े।

दर्जा हरारत के अलावा आज़मीन के हुजूम के बीच ज़ईफ़ आज़मीन पर शदीद दबाओ बढ़ता है जिसकी वजह से उनमें कमज़ोरी और नक़ाहत की वजह से तकान पैदा हुई। सिविल डीफेंस टीमें एसे आज़मीन को बरवक़्त तिब्बी इमदाद देकर फ़ौरी राहत बख़शने में मसरूफ़ हैं । डायरेक्टर सिविल डीफेंस अहमद बिन अबदुलअज़ीज़ ने कहा कि ज़्यादा-तर मुअम्मर आज़मीन-ए-हज्ज बेहोश हो कर गिर पड़े हैं।उनमें से अक्सर आज़मीन पीराना-साली के बाइस अलील हुए हैं।

ये भी पढ़ें :-  फर्जी देशभक्ति का सर्टिफिकेट बांटने वालों के मुंह पर जोरदार तमाचा: पवित्र शहर में लहराया भारतीय झंडा

नमाजे जुमा के दौरान आज़मीन का हुजूम बढ़ जाने से मुअम्मर आज़मीन बेचैनी और घुटन महसूस करने लगे। उन्हें बरवक़्त तिब्बी राहत पहोनचाई जा रही है। एमरजेंसी ख़िदमात फ़राहम कर दी हैं और उन्हें फ़ौरी वहां से उठा कर फ़्री हेल्थ सेंटर में मुंतक़िल कर रही हैं इस अमल में रेडकरीसेंट सोसाइटी भी तआवुन कर रही है।

अहमद बिन अबदुलअज़ीज़ ने कहा कि हर्म शरीफ़ में एमरजेंसी ख़िदमात फ़राहम करने के लिए तायिनात अमला में इज़ाफ़ा किया है। ये अमला ज़ख़मीयों का ईलाज करने और तवाफ़ के दौरान बेहोश हो कर गिरने वालों को बरवक़्त स्ट्रकचर पर लेकर हेल्थ सेंटर में तिब्बी इमदाद देता है। उम्र और अलालत की वजह तवाफ़ के दौरान एसे ज़ईफ़ लोगों के बेहोश हो कर गिरने की शिकायत आम है।

ये भी पढ़ें :-  सऊदी अरब में भारतीय महिला का यौन उत्पीड़न, बुरी नियत से हुमैरा का हाथ पकड़ कर..

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>