मजीठिया में हिम्मत है तो 6 महीने में मुझे गिरफ्तार करें, वर्ना 6 महीने बाद मैं करूंगा: केजरीवाल

Jul 29, 2016

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने नशीली दवाओं के मुद्दे पर पंजाब के राजस्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया के खिलाफ नये सिरे से मोर्चा खोलते हुए कहा कि अगर उनमें हिम्मत है तो वह उन्हें गिरफ्तार कर के दिखाएं.

उन्होंने साथ ही छह महीने बाद ‘नया पंजाब’ बनाने का संकल्प जताया.

गौरतलब है कि मजीठिया द्वारा दायर मानहानि के मुकदमे में केजरीवाल को शुक्रवार को ही जमानत मिली है.

आप नेता ने कहा कि वह ‘फर्जी मामलों’ से नहीं डरते और मजीठिया को आगाह किया कि ‘आगामी चुनाव में लोग उनसे बदला लेंगे.’

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक ने कहा, ‘अगर मजीठिया में हिम्मत है तो वह छह महीने में मुझे गिरफ्तार कर लें क्योंकि वे सत्ता में हैं. नहीं तो छह महीने बाद मैं उन्हें गिरफ्तार कर लूंगा.’

उन्होंने कहा, ‘पंजाब के लोग अपने खिलाफ दायर किये गये हरेक मामले में बदल लेंगे. आगामी चुनाव में लोग मजीठिया से बदला लेंगे.’ केजरीवाल ने कहा, ‘छह महीनों बाद मैं एक नये पंजाब का पुनर्निर्माण करूंगा.’

केजरीवाल ने कहा कि नशीली दवा की समस्या के कारण पंजाब बुरी स्थिति में है. उन्होंने नये सिरे से मजीठिया पर हमला बोला, जो शिरोमणि अकाली दल प्रमुख और उप मुख्यमंत्री सुखवीर सिंह बादल के रिश्तेदार हैं.

 

केजरीवाल ने कहा, ‘मजीठिया ने कहा कि मैंने उनकी मानहानि की. उन्हें यह कहने की हिम्मत कैसे हुई?’

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मैं आप सभी से पूछता हूं कि पंजाब में नशीली दवाओं का कारोबार कौन करता है? मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि वे कितने लोगों के मुंह बंद करेंगे? जब मैंने पूरे पंजाब का दौरा किया तो लोगों ने बताया कि डराने के लिए वह (मजीठिया) झूठे मामले दर्ज कराते हैं.’

आप नेता ने कहा, ‘अगर वे और बादल परिवार के लोग मेरे खिलाफ मानहानि का मुकदमा कर सकते हैं तो मैं समझ सकता हूं कि वह ‘आम आदमी’ के साथ क्या कर सकते हैं.’

मजीठिया द्वारा दायर मानहानि के मुकदमे के सिलसिले में केजरीवाल और आप नेता संजय सिंह आज यहां की एक स्थानीय अदालत में पेश हुए, जिसके बाद अदालत ने दोनों को जमानत दे दी.

अदालत ने सुनवायी की अगली तारीख 15 अक्तूबर मुकर्रर की है.

केजरीवाल के साथ एकजुटता प्रकट करने के लिए सर्किट हाउस के बाहर एकत्रित हुए आप कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा, ‘हम लोग किसी तरह के दबाव के कारण झुकने वाले नहीं हैं और वर्ष 2017 में पंजाब में सरकार बनायेंगे.’

उन्होंने कहा, ‘एक समय में खुशहाल रहे पंजाब को अकालियों ने नशीली दवाओं का अड्डा बना दिया और युवाओं को बर्बाद कर दिया. पंजाब में हर घर इस समस्या से जूझ रहा है.’

आप सांसद भगवंत मान ने संवाददाताओं से कहा, ‘यह ताकत दिखाने के लिए आयोजित किया गया शो नहीं है. लोग यहां आये हैं क्योंकि वे जानते हैं कि युवाओं को बर्बाद करने के पीछे मजीठिया हैं.’

केजरीवाल और संजय सिंह को मानहानि मामले में जमानत मिली

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह को पंजाब के राजस्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया की मानहानि के मामले में स्थानीय अदालत के समक्ष पेश होने पर जमानत मिल गई है. अदालत ने सुनवाई के लिए 15 अक्तूबर की तारीख तय की है.

गत 20 मई को मजीठिया ने इन तीनों के खिलाफ आपराधिक मानहानि का मामला दायर करते हुए यह आरोप लगाया था कि आम आदमी पार्टी नशीले पदार्थ के मामले में आधारहीन आरोप लगाकर उनकी और उनके परिवार की छवि बिगाड़ने पर तुली है.

इस माह में यह केजरीवाल की अमृतसर में तीसरी यात्रा है. इससे पहले वह तीन जुलाई को पार्टी का घोषणापत्र जारी करने आए थे. वर्ष 2017 में पंजाब में विधानसभा चुनाव हैं. इसके बाद वह 18 जुलाई को स्वर्ण मंदिर में ‘सेवा’ करने आए थे.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>