मध्यप्रदेश के मदरसे अब पढ़ाएंगे नरेंद्र मोदी और RSS संस्थापकों की जीवनी

Apr 04, 2017
मध्यप्रदेश के मदरसे अब पढ़ाएंगे नरेंद्र मोदी और RSS संस्थापकों की जीवनी

अब मध्य प्रदेश के मदरसों में संघ से जुड़े लोगों के बारे में पढ़ाया जाएगा। मदरसा बोर्ड ने फैसला लिया है इसलिए इस्लामिक स्कॉलर यह पाठ्यक्रम तैयार कर रहे हैं। मध्यप्रदेश मदरसा बोर्ड ने कहा कि वतनपरस्ती के विषय पर एक अलग पाठ्यक्रम तैयार किया जा रहा है।

बीबीसी के अनुसार, इस्लामिक स्कॉलर जो पाठ्यक्रम तैयार कर रहा है उसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, स्वयंसेवक के संस्थापक दीनदयाल उपाध्याय, भारत के प्रथम केन्द्रीय शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आजाद, पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जीवनियां पढ़ाई जाएंगी।

वही मुस्लिम संगठनों का कहना है कि बोर्ड के इस फैसले से ऐसा लग रहा है कि मुसलमान बच्चे देशभक्त नहीं होते इसलिए देशप्रेम का पाठ पढ़ाने की बात की जा रही है। मुस्लिम संघठनों का कहना है कि अगर यह पाठ्यक्रम हर शिक्षा संस्थान में पढ़ाया जाए तो वो उसका स्वागत करेंगे, लेकिन हमारा कहना है की मदरसों में ही बस क्यों।

वहीं मध्यप्रदेश मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष सैयद इमादुद्दीन ने इस फैसले को सही ठहराया है। उन्होंने कहा है कि वतन से मोहब्बत ईमान की निशानी है। यह जरूरी है कि बच्चों को देशप्रेम का पाठ पढ़ाया जाए। यही वजह है कि इस्लामिक स्कॉलर यह पाठ्यक्रम तैयार कर रहे हैं। मदरसा बोर्ड के इस फैसले का भाजपा ने तारीफ की है। भाजपा के प्रवक्ता दीपक विजयवर्गीय ने कहा, “ इसका स्वागत किया जाना चाहिए। हर जगह की अलग-अलग कमेटियां होती हैं जो निर्णय लेती हैं कि क्या पढ़ाया जाए। मदरसा बोर्ड की कमेटी ने अगर यह फैसला किया है तो अच्छी बात है”

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>