‘मिट्टी खरीद घोटाले’ का आरोपी है लालू परिवार – सुशील मोदी

Apr 04, 2017
‘मिट्टी खरीद घोटाले’ का आरोपी है लालू परिवार – सुशील मोदी

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने मंगलवार को राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद के परिवार पर राज्य में ‘मिट्टी खरीद घोटाला’ करने का आरोप लगाया। मोदी ने दावा किया है कि पटना के सगुना में एक मॉल निर्माण स्थल की मिट्टी को पर्यावरण एवं वन विभाग ने बिना टेंडर (निविदा) निकाले पटना के चिड़ियाघर के सौंदर्यीकरण के नाम पर 90 लाख रुपये में खरीद लिया। इस घोटाले का पूरा लाभ लालू प्रसाद के परिवार को मिला।

पटना में एक संवाददाता सम्मेलन में मोदी ने कहा, “डिलाइट मार्केटिंग कंपनी प्राइवेट लिमिटेड को हस्तांतरित की गई जमीन पर शॉपिंग मॉल बन रहा है और इस कंपनी में राजद अध्यक्ष के बड़े पुत्र एवं राज्य के पर्यावरण एवं वन मंत्री तेजप्रताप यादव, छोटे पुत्र एवं उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव तथा उनकी पुत्री चंदा यादव निदेशक हैं।”

बिहार विधान परिषद में विपक्ष के नेता ने याद दिलाते हुए कहा कि यह वही डिलाइट मार्केटिंग कंपनी है, जिसको लेकर बिहार के वर्तमान जल संसाधन मंत्री राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह ने वर्ष 2008 में आरोप लगाया था कि तत्कालीन रेलमंत्री लालू प्रसाद ने रेलवे के रांची और पुरी के दो होटलों को गलत तरीके से होटल सुजाता के हर्ष कोचर को बेच दिया।

इसके बदले में कोचर ने ‘डिलाइट मार्केटिंग कंपनी’ को एक ही दिन में 10 निबंधन के जरिए पटना में दो एकड़ जमीन हस्तांतरित की थी।

पूर्व उपमुख्यमंत्री ने दावा किया कि इसी जमीन पर राजद के सुरसंड से विधायक सैयद अबु दौजाना की कंपनी ‘मेरिडियन कंस्ट्रक्शन (इंडिया) लिमिटेड’ द्वारा शॉपिंग मॉल का निर्माण करवाया जा रहा है।

भाजपा नेता ने संवाददाताओं के सामने कई दस्तावेज प्रस्तुत करते हुए कहा कि माल निर्माण के दौरान बेसमेंट की मिट्टी को खपाने के लिए पर्यावरण एवं वन विभाग ने पटना के संजय गांधी जैविक उद्यान के सौंदर्यीकरण के नाम पर बिना टेंडर निकाले केवल कोटेशन के आधार पर 90 लाख रुपये में मिट्टी खरीद ली।

उन्होंने कहा कि यह काम रूपसपुर के वीरेंद्र यादव की कंपनी एम़ एस़ इंटरप्राइजेज से करवाया गया। उन्होंने दावा किया है कि जहां मिट्टी जरूरी नहीं है, वहां यह मिट्टी डाली गई।

गौरतलब है कि यह उद्यान पर्यावरण एवं वन विभाग के अंतर्गत आता है और इस विभाग के मंत्री लालू के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव हैं।

उन्होंने दावा किया कि पिछले दो महीने से रात के 10 बजे से सुबह पांच बजे तक मल की मिट्टी की ढुलाई की जा रही है, जबकि नियम है कि रात में वन्य प्राणियों के उद्यान में न तो कोई निर्माण कार्य या फिर गतिविधि होनी चाहिए।

मोदी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इस पूरे मामले की जांच करवाने तथा राज्य के वन एवं पर्यावरण मंत्री को मंत्रिमंडल से बर्खास्त करने की मांग की है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>